विकास रथयात्रा: CM अखिलेश चचा के साथ बैठे लेकिन नाम लेने से किया परहेज

विकास रथयात्रा: CM अखिलेश चचा के साथ बैठे लेकिन नाम लेने से किया परहेज

लखनऊ: पूरी तैयारी के साथ सीएम अखिलेश ने यूपी में अपना चुनावी शंखनाद कर दिया। लखनऊ में जोर शोर से कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में अखिलेश ने अपनी रथयात्रा की शुरुआत की। अखिलेश की इस विकास यात्रा को समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने हरी झंडी दिखाई।

खास बात यह रही कि अखिलेश के रथ को विदा करने उनके चाचा और यूपी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव भी पहुंचे थे। शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव को शुभकामना दी। लेकिन जब सीएम अखिलेश के बोलने की बारी आई तो उन्होंने अपने भाषण में नेता जी (मुलायम सिंह यादव) का नाम तो कई बार लाय लेकिन अपने चाचा शिवपाल यादव का नाम नहीं लिया।

इस विकास रथ यात्रा के लिए अखिलेश ने जो रथ तैयार करवाया है उसमें मुलायम सिंह यादव की तस्वीर तो है लेकिन चचा शिवपाल की तस्वीर कहीं नहीं लगाई गई है। इससे एक बात साफ है कि दोनों के बीच दूरियां भले ही कम हुई हैं लेकिन तल्खी बनी हुई है।

अखिलेश ने अपने भाषण में कई बार युवाओं का जिक्र किया। कोशिश ये थी कि युवा उनके साथ हैं। वहीं जब मुलायम सिंह मंच पर बोल रहे थे तो उन्होंने युवाओं को लगे हाथ नसीहत दे दी। मुलायम ने मंच से एक बार फिर अपनी पीठ पर खाई लाठी का जिक्र किया। इस लाठी का जिक्र मुलायम पिछले दिनों पार्टी में छिड़े गृहयुद्ध में कई बार कर चुके हैं। जब शिवपाल के बोलने की बारी आई तो युवाओं ने जोर से नारेबाजी शुरु कर दी। जिसके बाद शिवपाल को कहना पड़ा कि जोश के साथ होश बनाए रखना जरुरी है।

Loading...

Leave a Reply