राजस्थान में RBI गवर्नर उर्जित पटेल के खिलाफ FIR दर्ज

नई दिल्ली: रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर उर्जित पटेल के खिलाफ FIR दर्ज कराई गई है। पुलिस में ये FIR राजस्थान के भरतपुर में दर्ज करवाई गई है। कांग्रेस नेता विश्वेंद्र सिंह ने अपनी शिकायत में कहा है कि घंटे भर तक बैंक में इंतजार करने के बाद भी बैंक ने उन्हें 10,000 रुपये देने से मना कर दिया। इसकी वजह बैंक में कैश की कमी बताई गई। शिकायत में कहा गया है कि उन्हें 10,000 रुपये की सख्त जरुरत थी लेकिन बैंक उन्हें केवल 2 हजार रुपये देने के लिए तैयार था।

घटना गुरुवार की है। राजस्थान में ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के भरतपुर ब्रांच में विश्वेंद्र सिंह नए नोट निकालने के लिए घंटे भर बैंक की लाइन में खड़े रहे। लेकिन जब विश्वेंद्र सिंह का बारी आई और वो काउंटर पर पहुंचे तो बैंक की तरफ से कहा गया कि बैंक में केवल तीन लाख रुपये ही हैं और उन्हें दो हजार से ज्यादा की निकासी नहीं दी जा सकती है। जबकि विश्वेंद्र सिंह की जरुरत 10,000 रुपये की थी।

विश्वेंद्र सिंह ने कहा कि आरबीआई को डिमोनेटाइजेशन के बाद पैदा होने वाले हालात के बारे में जानकारी थी तो फिर पूरी मात्रा में नए नोट क्यों नहीं छापे गए। उन्होंने कहा बैंकों को पर्याप्त मात्रा में करेंसी उपलब्ध नहीं करवाने के लिए आरबीआई को सजा मिलनी चाहिए।

उन्होंने कहा पुलिस ने उनकी शिकायत स्वीकार कर ली लेकिन धोखा देने और आपराधिक साजिश की धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज नहीं की। विश्वेंद्र सिंह आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल और ओरियंटल बैंक ऑफ कॉमर्स भरतपुर के खिलाफ आपराधिक धाराओं के तहत केस दर्ज करवाना चाहते थे। उन्होंने कहा अगर इन धाराओं के तहत केस दर्ज नहीं किया जाता है तो वो कोर्ट से इसकी गुहार लगाएंगे।
वहीं इस मामले में पुलिस का कहना है कि मामले की पूरी जांच के बाद मामले में एफआईआर दर्ज की जाएगी।

Loading...

Leave a Reply