एक और मौका मिलेगा- बेहिसाब संपत्ति वालों के लिए सरकार लाएगी नई स्कीम

नई दिल्ली: नोटबंदी के बाद जिन लोगों ने बैंकों में बेहिसाब संपत्ति जमा की है केंद्र सरकार उनके लिए एक नई डिस्क्लोजर स्कीम ला सकती है। इस योजना का तहत लोगों से अघोषित आय पर 50 फीसदी टैक्स वसूला जाएगा और उन्हें चार साल के लिए उस राशि को भूलना होगा। लेकिन अगर इसके बाद भी लोग इस स्कीम को नहीं मानते हैं और अपनी आय की पूरी जानकारी नहीं बताते हैं तो सरकार उनसे 60 फीसदी टैक्स के साथ जुर्माना भी वसूल करेगी।

इसके अलावे सरकार अगले सप्ताह इनकम टैक्स एक्ट में संशोधन भी कर सकती है। केंद्र सरकार की यह योजना कैबिनेट की तरफ से टैक्स कानून को मंजूर किये जाने के एक दिन बाद समने आई है। दरअसल 8 नवंबर को नोटबंदी के एलान के बाद से 500 और 1000 रुपये का नोट केवल आम कागज रह गया था। लेकिन सरकार ने ये व्यवस्था भी दी कि जिनके पास अपनी मेहनत की कमाई के पैसे हैं वो बेकार नहीं होंगे और लोग अपने पुराने नोट को नए नोट से बदल सकते हैं।

लेकिन सरकार की इस नोटबंदी की मार सबसे ज्यादा उनपर पड़ी जिनके पास बेहिसाब काला धन जमा था। क्योंकि बैंक में ढाई लाख रुपये से ज्यादा जमा करवाने पर आयकर विभाग पूछताछ कर सकता है। और अगर इसे कहीं और खपाया जाता है तो सरकार की उसपर भी नजर है। और अगर वो इसे अब भी छुपाकर रखते हैं तो वो कागज का टुकड़ा भर है। ऐसे में सरकार की ये नई स्कीम उनलोगों के लिए जिनके पास बेहिसाब दौलत है उनके लिए एक संजीवनी होगी।

Loading...