पठानकोट हमले में NIA ने दायर की चार्जशीट




नई दिल्ली: जनवरी में पठानकोट में एयरबेस पर हुए आतंकी हमले में NIA ने चार्जशीट दायर कर दी है। चार्जशीट में जैश-ए-मोहम्मद के तीन आतंकियों के नाम हैं। इसमें जैश सरगना मसूद अजहर का नाम भी शामिल है। पंजाब के पठानकोट में आतंकियों ने 2 जनवरी की रात को एयरबेस पर हमला किया था। जिसमें 7 जवान शहीद हुए थे। 4 दिन तक चली मुठभेड़ के बाद सभी चार आतंकियों को मार गिराया गया था।

NIA की चार्जशीट में जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर, डिप्टी चीफ रउफ असगर, लॉन्चिंग कमांडर शाहिद लतीफ और मेन हैंडलर काशिफ जान का नाम शामिल है। चार्जशीट में पाकिस्तान-अफगानिस्तान बॉर्डर के उस जगह का भी नाम शामिल है जहां पर इन आतंकियों को ट्रेनिंग दी गई थी।

पठानकोट में हमला करने के बाद आतंकियों ने अपने हैंडलर से भी बात की थी। आतंकियों ने अपने हैंडलर के जरिये ही गाड़ी बुक कराई थी। टैक्सी ड्राइवर को पाकिस्तान के नंबर से फोन आया था। टैक्सी ड्राइवर को पंजाबी में पठानकोट में एक जगह पर पहुंचने के लिए कहा गया था। आतंकियों ने पाकिस्तान में अशफाक अहमद और अब्दुल शकूर से बात की थी। इनके नाम भी NIA की चार्जशीट में हैं।

चारों आतंकी इनोवा में सवार होने के बाद एक बेहद ही खराब रास्ते पर ले गए थे। रास्ता खराब होने की वजह से इनोवा का रिम टूट गया था। जिसके बाद उन्होंने गाड़ी वहीं छोड़ दी। इसके बाद आतंकियों ने गुरदासपुर के पूर्व एसपी सलविंदर सिंह की महिंद्रा एसयूवी को रोका। इसके बाद आतंकियों ने सलविंदर, उसके दोस्त और कुक का अपहरण कर लिया।

इस मामले में जांच के लिए भारत और पाकिस्तान की एक ज्वाइंट टीम बनी थी। इस टीम से जुड़े पाकिस्तानी अफसर मार्च में भारत आए थे। और उन्होंने पठानकोट एयरबेस का दौरा किया था। NIA ने उस टीम को हमले का एक प्रजेंटेशन भी दिया था। लेकिन यहां पाकिस्तान बाद में अपनी बात से पलट गया। जब भारतीय अधिकारी जांच के लिए पाकिस्तान जाना चाहते थे तो पाकिस्तान सरकार ने इसकी इजाजत नहीं दी।

Loading...