ज्यादा खर्च की वजह से डॉनल्ड ट्रंप को पसंद नहीं बोइंग !

नई दिल्ली: अमेरिका के नव निर्वाचित राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप सरकारी यात्रा के लिए सस्ता, सुंदर और सुरक्षित साधन की तलाश कर रहे हैं। इसलिए अबतक अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा इस्तेमाल किये जा रहे विमान के ऑर्डर कैंसिल करना चाहते हैं। ऐसा कर ट्रंप सरकारी खर्च में कटौती करना चाहते हैं। अपने ट्वीट में ट्रंप ने कहा अमेरिका के भावी राष्ट्रपतियों के लिए न्यू ब्रांड 747 एयरफोर्स वन बना रहा है। लेकिन इनकी कीमत काफी ज्यादा है। तकरीबन 4 अरब डॉलर से भी ज्यादा। इसलिए इनका ऑर्डर कैंसिल कर देना चाहिए।

अमेरिका की तरफ से बोइंग कंपनी को दो नए विमान तैयार करने का ऑर्डर दिया गया है। अमेरिका को नए बोइंग विमान की ये खेप 2024 तक मिलेगी। लेकिन ट्रंप इसकी सवारी तभी कर पाएंगे जब वो 2020 में दोबारा राष्ट्रपति चुने जाएंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति द्वारा इस्तेमाल में लाए जानेवाले एयरफोर्स वन को फ्लाइंग ओवल ऑफिस भी कहा जाता है। इसकी खासियत की अगर बात करें तो…

अमेरिकी राष्ट्रपति के लिए बोइंग 747-200B जेट विमान है। इस विमान पर बड़े अक्षरों में United State of America लिखा है। साथ में राष्ट्रपति की सील भी लगी है। एयरफोर्स वन 563 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है। उड़ान के दौरान इसमें हवा में ही ईंधन भरा जा सकता है। विमान के अंदर प्रेसिडेंसियल एडवायजरों की पूरी वेस्ट विंग एकसाथ बैठ सकती है। इसमें तीन लेवल पर 4000 वर्ग फीट का फ्लोर है। एक मेडिकल सूइट/ऑपरेटिंग रूम और दो गैले हैं जहां 100 लोग एकसाथ जमा हो सकते हैं। विमान में ऐसे औजार हैं जिसके जरिये कमांडर-इन-चीफ किसी विपत्ति की स्थिति में प्लेन को मोबाइल कमांड सेंटर के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं।

Loading...