ड्राइवर की कुदकुशी और जनार्दन रेड्डी के 100 करोड़ के कालेधन का क्या है कनेक्शन?

नई दिल्ली: कर्नाटक के पूर्व मंत्री जनार्दन रेड्डी पिछले दिनों काफी चर्चा में थे। वजह थी उनकी बेटी की शाही शादी। बताया जा रहा है कि उस शादी में 500 करोड़ रुपये खर्च किये गए। ये भारी भरकम रकम तब खर्च किये गए जब 8 नवंबर को नोटबंदी लागू हो चुकी थी। अब एकबार फिर जनार्दन रेड्डी विवादों में हैं। वजह है एक ड्राइवर की खुदकुशी और उसका सूसाइड नोट।

driver-suicide-2जनार्दन रेड्डी के सहयोगी के ड्राइवर ने खुदकुशी कर ली। अपने सूसाइड नोट में उसने आरोप लगाया है कि रेड्डी ने अपनी बेटी की शादी के लिए 100 करोड़ के कालेधन को सफेद किया है। ड्राइवर ने रेड्डी पर मानसिक प्रताड़ना का भी आरोप लगाया है।

ड्राइवर के. सी. रमेश ने मंगलवार शाम को शिवपुर के लॉज में आत्महत्या कर ली थी। रमेश बेंगलुरु के विशेष जमीन अधिग्रहण अधिकारी एल. भीमा नाइक के आधिकारिक ड्राइवर थे। पुलिस इस मामले की जांच कर रही है। इस मामले में बताया जा रहा है कि ड्राइवर रमेश को भीमा नाइक की अवैध संपत्ति के बारे में जानकारी थी। उसे जान से मारने की धमकी भी मिल रही थी। अपने सूसाइड नोट में उसने इस बात का जिक्र भी किया है।

जानकारी के मुताबिक सूसाइड नोट में इस बात का जिक्र किया गया है कि ‘जनार्दन रेड्डी ने अपनी बेटी की शाही शादी के लिए 100 करोड़ रुपये के कालेधन को सफेद कर लिया। सूसाइड नोट में लिखा गया है कि भीमा नाइक और उनके निजी कार ड्राइवर मोहम्मद उसकी मौत के लिए जिम्मेदार हैं।‘ सूसाइड नोट में लिखा गया है कि ‘भीमा नाइक ने जनार्दन रेड्डी के 100 करोड़ रुपये के कालेधन को सफेद करने का जिम्मा लिया था। इसके बदले उसने 20 फीसदी कमीशन लिया था। इस बात की जानकारी मुझे मिलने के बाद से ही मुझे धमकी मिलने लगी।‘

Loading...