बिहार पुलिस के दो जवानों को नेपाल पुलिस ने बंधक बनाया, बाद में छोड़ा गया

प्रियांशु आनंद/सुपौल

सुपौल/ बिहार:  सुपौल  के भारत नेपाल सीमा में नेपाल इलाके के भंटाबाड़ी घुसे दो पुलिस कर्मियो को नेपाल पुलिस ने बंधक बना लिया । बाद में स्थानीय अधिकारियों  के हस्तक्षेप से उन्हे छुड़ाया गया। दरअशल मधुबनी के लौकही में पेट्रोल पंप में लूट मामले के आरोपी भागते भागते नेपाल में घुस गए । इस  दौरान दो बिहार पुलिस के ब्रजेश कुमार और रामाशीष कामत भी उनका पीछा करते हुए नेपाल के भंटा बाड़ी इलाके मे प्रवेश कर गए ।

इस दौरान उनके पास सरकारी पिस्टल ओर कुछ कारतूस भी था । नेपाल में प्रवेश करने पर नेपाली सुनसरी जिले के भंटा बाड़ी में इन्हें रोक दिया गया ।और बंधक बना कर पूछताछ की गई ।जिसके बाद बीरपुर डीएसपी और मधुबनी के एक डीएसपी के हस्तक्षेप के बाद उन्हें वहां से छुड़ाया गया ।

दरअशल मधुबनी में एक लौकही पम्प पर कुछ दिन पहले कुछ अपराधियों ने लूट की घटना को अंजाम दिया था।जिसके बाद इन अफसरों को कुछ गुप्त सूचना मिली थी।जिसमे नेपाल में प्रवेश करने के दौरान इनका हथियार और गोली भी उनके साथ था।जिसकी वजह से नेपाल पुलिस को शक हुआ था।वही उनको बंधक बना कर थाने मे बैठा दिया गया था। उन दोनें पुलिसकर्मियों के  छोेड़े जाने की पुष्टि एसपी सुपौल मृत्युंजय चौधरी ने फ़ोन पर की।

Loading...