Yogi-Adityanath-and-Imam-Bu

योगी कह चुके हैं ‘सबका साथ सबका विकास’ फिर इमाम बुखारी ने क्यों लिखी डर वाली चिट्ठी?

योगी कह चुके हैं ‘सबका साथ सबका विकास’ फिर इमाम बुखारी ने क्यों लिखी डर वाली चिट्ठी?

नई दिल्ली: दिल्ली के जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है। जिसमें उन्होंने यूपी के मुसलमानों के मन में फैले डर को दूर करने की अपील की है। पीएम को लिखे पत्र में बुखारी ने कहा है कि देश के सबसे बड़े प्रदेश उत्तर प्रदेश में बीजेपी को बड़ी जीत मिली है। लेकिन पिछले कुछ दिनों से राज्य के मुस्लिम समुदाय के खौफजदा होने की खबरें आ रही हैं।

शाही इमाम ने मुसलमानों के फैले भय और शंका के हालात पर चिंता जताते हुए कहा सरकार को नागरिकों के प्रति शंकालू होने के बजाय आपसी विश्वास को बढ़ावा देने वाला माहौल कायम करने को प्राथमिकता देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि केंद्र और राज्य में बीजेपी की चुनावी जीत के बाद पीएम ने खुद ही सबका साथ सबका विकास का नारा देकर आपसी विश्वास बहाली का स्पष्ट संदेश दिया था।

ये भी पढें :

-बीच जंगल में भूखे शेरों के बीच फंस गया एक इंसान फिर क्या हुआ, देखें Video
-सीएम योगी ने 30 मिनट में 5 दिन से चली आ रही नाराजगी दूर कर दी

शाही इमाम ने उम्मीद जताई कि उत्तर प्रदेश सरकार प्रधानमंत्री के इस संकल्प को जमीन पर लागू करने को लेकर गंभीर प्रयास करेगी।

हलांकि इमाम बुखारी यूपी के मुसलमानों में फैले जिस डर की बात कर रहे हैं उसपर सीएम योगी आदित्यनाथ राज्य की कमान संभालने के बाद कई बार अपनी बात रख चुके हैं। राज्य की सत्ता संभालने के बाद पहले दिन ही सीएम ने कहा था उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास के सिद्धांत पर काम करेगी।

कई बार सीएम योगी अधिकारियों को ये हिदायद दे चुके हैं कि कोई भी कार्रवाई पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर नहीं की जाएगी। गुरुवार को यूपी के मीट कारोबारी ने सीएम से मुलाकात की थी। जिसके बाद उन्होंने सीएम की तारीफ की थी। सीएम की बातों पर भरोसा जताते हुए मीट कारोबारियों ने हफ्ते भर से चल रही अपनी हड़ताल भी वापस ले ली।

ये भी पढें :

– तीन तलाक खत्म करने के लिए अल्लाह ने मोदी जी को चुना है- सुहैब कासमी

हलांकि बुखारी ने अपने खत में ये साफ नहीं किया है कि उन्हें ऐसा क्यों लग रहा है कि बीजेपी के सत्ता में आने के बाद यूपी के मुसलमान डरे हुए हैं।

Loading...

Leave a Reply