मुंबई में कुत्तों का रंग नीला पड़ने लगा है, जानिये क्या है वजह

मुंबई:  मुंबई के तलोजा इलाके में प्रदूषण का ऐसा असर हुआ है कि वहां रहने वाले कुत्तों का रंग बदलने लगा है। इस इलाके के कुत्तों का रंग नीला होने लगा है। इसे लेकर कई बार शिकायत भी की जा चुकी है लेकिन प्रदूषण फैलाने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है। इस मामले में शिकायतकर्ता आरती चौहान ने कहा उन्होंने इसे लेकर कई बार शिकायत की लेकिन प्रदूषण बोर्ड की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की गई।

दरअसल मुंबई के तलोजा इलाके में कपड़ों के रंगाई का काम बड़े पैमाने पर किया जाता है। इन फैक्टरियों से निकलनेवाले पानी जब नालियों या आसपास के इलाकों तक पहुंचते हैं तो उससे प्रदूषण होता है। जिसकी वजह से इलाके में रहने वाले कुत्तों का रंग रातों रात बदलने लगा है। जो कुत्ते कल तक सफेद या गेहूआं रंग के दिखाई देते थे उनका रंग अब नीला हो गया।

सौजन्य- ANI/ आरती चव्हाण, शिकायतकर्ता

शिकायतकर्ता आरती चौहान ने कहा फैक्ट्री के प्रदूषण का असर केवल कुत्तों पर ही नहीं बल्कि कई पक्षियों पर भी देखा जा रहा है। उन पक्षियों का रंग भी नीला होने लगा है। उन्होंने कहा इसे हल्के तौर पर नहीं लिया जा सकता है। प्रदूषण बोर्ड को इसपर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए।

mumbai dog
सौजन्य- ANI

मुंबई में जिस तरह से कुत्तों का रंग नीला होने लगा है उसके बारे में जानकर बहुत से लोगों को रंगा सियार की वो कहानी याद आ रही होगी। जिसमें वो एक धोबी के घर के बाहर रखे नील के बरतन में गिर गया था। जिसकी वजह से उसका रंग नीला हो गया था। जिसके बाद वो जंगल में जाकर अपने साथियों पर धौंस जमाने लगा था। लेकिन बाद में उसकी पोल खुल गई थी।

सियार की कहानी एक काल्पनिक घटना है। लेकिन मुंबई के तलोजा में जो हो रहा है वो हकीकत है और गंभीर विषय है। इसपर वक्त रहते कदम उठाने की जरुरत है।

Loading...

Leave a Reply