अपने खेत को छोड़कर मुंबई के आजाद मैदान में जुटे 40,000 किसान

मुंबई:  नासिक से निकला किसानों का जत्था अब मुंबई के आजाद मैदान पहुंच चुका है। आज दोपहर किसानों का एक प्रतिनिधि मंडल सीएम देवेंद्र फडणवीस से मुलाकात करेगा। इस मुलाकात में किसान सरकार के सामने अपनी मांगें रखेंगे। किसान 200 किलोमीटर की पदयात्रा कर सरकार को कर्जमाफी का वादा याद दिलाने मुंबई पहुंचे हैं। किसानों का आरोप है कि सरकार ने सभी किसानों के कर्जमाफी की बात कही थी। लेकिन केवल कुछ किसानों का कर्ज माफ किया गया और सरकार कह रही है महाराष्ट्र में किसानों का कर्ज माफ किया गया।

जानकारी के मुताबिक अगर सरकार के साथ बैठक में कोई नतीजा नहीं निकलता है और सरकार उनकी मांग नहीं मानती है तो फिर विधानसभा का घेराव किया जाएगा। किसान जब नासिक से स्वप्न नगरी मुंबई के लिए इंसाफ की मांग लेकर रवाना हुए थे तो सरकार की तरफ से कहा गया कि उनकी मांगों पर गौर करने के लिए कमेटी बनाई गई है।

लेकिन सरकार ने किसानों की मांग पर गौर करने और कमेटी बनाने में शायद देर कर दी, इसलिए किसान महाराष्ट्र के सरदार के चौखट पर आकर खड़े हो गए। 200 किलोमीटर तक किसानों का जत्था चलता रहा। तकरीबन 40,000 हजार किसान इसमें शामिल हुए। लेकिन कहीं भी किसी तरह का अराजकता नहीं हुई। ना ही किसी गाड़ी को रोका गया और ना ही कहीं स्कूल बंद किया गया। क्योंकि ये किसान हैं जो अपनी उस किस्मत को जगाने निकले है जिसे अबतक सियासत के सिपाहियों ने केवल झकझोरा ही है। इन्हें कुछ दिया नहीं है।

 

Loading...