MUMBAI BUILDING COLLAPSE

मुंबई में पांच मंजिला इमारत गिरी, 34 लोगों की मौत, बचाव का काम जारी

मुंबई में पांच मंजिला इमारत गिरी, 34 लोगों की मौत, बचाव का काम जारी

मुंबई:  दक्षिण मुंबई के जेजे मार्ग में एक पांच मंजिला इमारत गिर गई। इमारत के गिरने से तकरीबन 34 लोगों की मौत हो गई। इस इमारत में तकरीबन 10-12 परिवार रहते थे। ये इमारत गुरुवार सुबह 8 बजकर 40 मिनट पर गिरी थी। जिसके बाद से लगातार राहत और बचाव का काम जारी है। इसमें अबतक 34 लोगों की मौत हो चुकी है। बताया जा रहा है अभी और लोग मलबे में दबे हो सकते हैं। इस हादसे में 29 लोग घायल भी हुए हैं। राहत और बचाव का काम करते वक्त कई दमकलकर्मी भी घायल हुए हैं।

एनडीआरएफ और पुलिस ने उम्मीद जताई है कि राहत और बचाव का काम जल्द पूरा कर लिया जाएगा। इस काम में कैमरे का भी सहारा लिया जा रहा है। जिसकी मदद से मलबे के भीतर दबे लोगों के  बारे में जानकारी ली जाती है। राहत और बचाव के काम में एनडीआरएफ, दमकल विभाग और पुलिस के जवान लगातार जुटे हैं।

जेजे मार्ग पर भिंडी बाजार में बनी ये पांच मंजिला इमारत 117 साल पुरानी थी। बताया जा रहा है म्हाडा की तरफ से इसे 2011 में खतरनाक बिल्डिंग बताया जा चुका था। और पुनर्निर्माण स्कीम के तहत बिल्डिंग का चयन किया गया था। इस बिल्डिंग को खाली करने के लिए भी कहा गया था। लेकिन बिल्डिंग की चौथी मंजिल पर और ग्राउंड फ्लोर पर लोग रह रहे थे।

सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी घटना स्थल का दौरा किया था। उन्होंने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है। सीएम ने कहा इस मामले में लापवाही बरतने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। सीएम ने कहा पुनर्विकास योजना के तहत इस बिल्डिंग के निर्माण की मंजूरी दी गई थी। जिसके तहत इस इमारत को गिराया जाना था। इसे गिराने की अंतिम मंजूरी 2016 में दी गई थी। लेकिन कुछ परिवार इस इमारत में ही रहते गए। म्हाडा की तरफ  से इस इमारत को खतरनाक घोषित किया गया था।

Loading...

Leave a Reply