mulayam-singh-and-akhilesh-yadav

प्रेस कांफ्रेंस में बड़ा फैसला सुनाने वाले थे मुलायम लेकिन आजम ने रोक लिया!

प्रेस कांफ्रेंस में बड़ा फैसला सुनाने वाले थे मुलायम लेकिन आजम ने रोक लिया!




लखनऊ: समाजवादी पार्टी में पिता और पुत्र के बीच मचे संग्राम में शुक्रवार को किसी बड़े फैसले की उम्मीद की जा रही थी। सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने इसके लिए शाम 4 बजे प्रेस कांफ्रेंस भी बुला ली थी। लेकिन नियत समय से ठीक पहले प्रेस कांफ्रेंस रद्द कर दिया गया। वजह किसी को नहीं बताया गया।

लेकिन सूत्रों के मुताबिक जो खबर बाहर आई उसमें ये कहा गया कि मुलायम सिंह यादव अकेले चुनाव लड़ने का एलान करनेवाले थे। लेकिन उन्हें आजम खान ने इस बात का एलान करने से रोक लिया। मुलायम परिवार में जब से दंगल पार्ट-2 शुरु हुआ है तब से आजम खान काफी सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं पिता-पुत्र के बीच में।

पिता-पुत्र की इस लड़ाई में अमर सिंह गुरुवार को लखनऊ पहुंचे। उनके लखनऊ आगमन पर समाजवादी पार्टी के नेता नरेश अग्रवाल ने कहा अगर अमर सिंह लखनऊ नहीं आए होते तो पिता-पुत्र में सुलह हो जाता। पर अब वो आ गए हैं तो सुलह मुश्किल है।

वहीं अमर सिंह ने कहा है कि अगर उनके इस्तीफे से समाजवादी पार्टी का कलह खत्म हो जाता है तो वो इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं। शुक्रवार को मुलायम के घर पर अहम बैठक हुई। जिसमें अमर सिंह के अलावा शिवपाल यादव भी मौजूद थे। जानकारी के मुताबिक इस बैठक में ताजा हालात पर चर्चा हुई।

वहीं अखिलेश साफ कर चुके हैं कि चुनाव उन्हें लड़ना है इसलिए उम्मीदवार तय करने का अधिकार उनका है। सूत्रों के मुताबिक अखिलेश ने कहा है कि चुनाव के बाद मुलायम के लिए वो राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ने के लिए तैयार हैं। लेकिन जानकार बता रहे हैं कि असल पेंच अध्यक्ष पद को लेकर ही है। मुलायम के समर्थक चाहते हैं कि अखिलेश तुरंत राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद छोड़ दें।

Loading...

Leave a Reply