mulayam-singh-yadav

मुलायम ने पलटा अखिलेश का फैसला, प्रजापति फिर बनेंगे मंत्री

मुलायम ने पलटा अखिलेश का फैसला, प्रजापति फिर बनेंगे मंत्री

दोनों के बीच तकरार है, इस तकरार के ऊपर एक नेता जी हैं, जिनका नाम मुलायम सिंह यादव है। इस लड़ाई में आपस में भिड़ंत करने वालों में से एक नेताजी के भाई हैं तो दूसरा बेटा। इनदोनों के बीच की लड़ाई में कहीं समाजवाद की साइकिल का चक्का जाम न हो जाए इसलिए नेताजी सक्रिय रुप से दोनों में सुलह कराने में जुटे हैं।

लखनऊ में समाजवादी पार्टी के दफ्तर में कार्यकर्ताओं से मिलते हुए मुलायम सिंह यादव ने सीएम अखिलेश यादव के उस फैसले को पलट दिया जिसमें मंत्री गायत्री प्रजापति को कैबिनेट से बर्खास्त किया गया था। यही नहीं मुलायम ने ये भी कह दिया कि शिवपाल यादव से जो विभाग छीने गए हैं वो भी उसे वापस किये जाएंगे। यानि एक तरफ प्रजापति दोबारा मंत्री बनेंगे तो दूसरी तरफ शिवपाल फिर से 9 अहम मंत्रालय संभालने वाले मंत्री बनेंगे।

मुलायम ने इससे पहले अपने भाई शिवपाल यादव का इस्तीफा भी नामंजूर कर दिया। उन्होंने कहा हमारे बीच कोई मतभेद नहीं है। हम सब एक हैं। शिवपाल ने काफी मेहनत की है। प्रजापति बाहर हो गए थे मैंने उन्हें अंदर कर दिया। किसकी हिम्मत है जो रोक ले। यानि एक तरह से नेताजी अब पूरी तरह से चाचा-भतीजा के बीच की लड़ाई को खत्म करने के लिए सक्रिय हो चुके हैं।

वहीं सीएम अखिलेश यादव का कहना है कि चुनाव में उनकी सरकार की परीक्षा है। सवाल उनसे पूछे जाएंगे। सरकार वो चला रहे हैं इसलिए पार्टी भले ही शिवपाल संभालें लेकिन चुनाव में उम्मीदवारों को टिकट देने का फैसला वो करेंगे।

Loading...

Leave a Reply