मोहाली एयरपोर्ट पर दावेदारी को लेकर पंजाब-हरियाणा सरकार में ठनी

चंडीगढ़: चंडीगढ़ के अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट से गुरुवार को एयर इंडिया के विमान ने पहली बार शारजाह के लिए उड़ान भरी। उस विमान में पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखवीर सिंह बादल भी सवार हुए। लेकिन इस रवानगी और एयरपोर्ट पर लगाए गए पंजाब सरकार के विज्ञापन पर खफा हो गए हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर। अपनी नाराजगी का इजहार करने के लिए उन्होंने पंजाब सरकार के नाम सील ठप्पे वाले लेटरहैड पर चिट्ठी लिखकर पंजाब के सीएम के पते पर रवाना कर दिया।

KHATTAR ANGERइस चिट्टी में उन्होंने लिखा एयरपोर्ट का नाम चंडीगढ़ की बजाय मोहाली करना गलत है। साथ ही खट्टर ने लिखा है कि अभी केंद्र सरकार की तरफ से इस एयरपोर्ट के लिए कोई नाम नहीं सुझाया गया है। इस तरह से एयरपोर्ट पर हक जताना गलत है।

पंजाब सरकार ने मोहाली एयरपोर्ट से इंटरनेशनल विमान सेवा के शुरु होने पर प्रेस कांफ्रेंस की थी। बाकायदा इसके लिए अखबारों में विज्ञापन दिये गए थे। पंजाब सरकार इस इंटरनेशनल एयरपोर्ट को अपनी उपलब्धी बता रही है। इसी वजह से इसका नाम चंडीगढ़ एयरपोर्ट की बजाय मोहाली एयरपोर्ट बताया जा रहा है। जबकि इस एयरपोर्ट के निर्माण में हरियाणा सरकार ने भी पंजाब सरकार के बराबर ही पैसा लगाया है। इसमें 51 फीसदी हिस्सेदारी एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया का है जबकि 24.5 फीसदी हिस्सेदारी दोनों राज्यों की है। इसके बाद भी पंजाब की तरफ से बढ़चढ़ कर दावेदारी पेश करना हरियाणा सरकार को नागवार गुजर रहा है।

Loading...

Leave a Reply