bjp-party-taken-more-than-300-seat-in-up-election

यूपी में 1991 के राम लहर से बड़ी 2017 की मोदी लहर, बीजेपी का आंकड़ा 300 के पार

यूपी में 1991 के राम लहर से बड़ी 2017 की मोदी लहर, बीजेपी का आंकड़ा 300 के पार




नई दिल्ली: यूपी में बीजेपी को केवल बड़ी और बंपर जीत हासिल नहीं की है। बल्कि पुराने सारे कीर्तिमान को बीजेपी ने पीछे छोड़ दिया। ये जीत इतनी बड़ी है कि सन 1991 में जबकि देशभर में राम लहर चल रहा था उस वक्त यूपी में हुए चुनाव में बीजेपी को 221 सीटें मिली थी।

लेकिन 2017 के मार्च महीने में बीजेपी को जो जीत मिली है उसने पुराने सारे कीर्तिमान को ध्वस्त कर दिया। केवल साल और कालक्रम का फर्क नहीं था ये। फर्क था लहर का, फर्क था जनता की सोच का। 1991 में यूपी में जहां राम लहर था वहीं 2017 के चुनाव में मोदी लहर ने पार्टी की जीत का आंकड़ा 300 के पार पहुंचा दिया।

यूपी के इतिहास में ये पहली बार हुआ है जब किसी एक पार्टी को विधानसभा चुनाव में 300 से ज्यादा सीट मिली है। बीजेपी अगर इस जीत का श्रेय पीएम मोदी को दे रही है तो इसमें कुछ गलत भी नहीं है। क्योंकि पार्टी ने राज्य में सीएम का चेहरा नहीं उतारा था। वहां बीजेपी के लिए सबकुछ मोदी थे। इसका पर्टी को फायदा भी मिला। यूपी विधानसभा चुनाव में मोदी ने 132 जगहों पर सभा की। जिनमें से 93 सीटों पर बीजेपी को जीत मिली।

इस यूपी विधानसभा चुनाव में 67 सीट ऐसे हैं जहां आजादी के बाद से बीजेपी कभी नहीं जीती थी। लेकिन इसबार उनमें से 33 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की। फतेहपुर उस जगह का नाम है जहां से माना जा रहा है की पीएम मोदी ने चुनाव का रुख बदलनेवाला बयान दिया था। फतेहपुर की रैली में ही पीएम मोदी ने कब्रिस्तान और श्मशान वाली बात कही थी। उस फतेहपुर में बीजेपी ने सभी 6 सीटें जीत ली।

ये भी पढें :

– शाम 4.30 बजे बीजेपी मुख्यालय में पीएम मोदी कार्यकर्ताओं को करेंगे संबोधित

वाराणसी, लखनऊ, इलाहाबाद और अमेठी का हाल भी कुछ ऐसा ही रहा। वाराणसी से पीएम मोदी सांसद भी हैं। और अपने लोकसभा क्षेत्र में पीएम मोदी ने लगातार 3 दिनों तक एक कार्यकर्ता की तरह पसीना बहाया था। इन तीन दिनों में उन्होंने दो रोड शो और तीन रैलियां की थीं। काशी में किये गए मोदी की इस मेहनत ने अपना रंग भी दिखाया और वहां की सभी 8 सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज कर ली।

इलाहाबाद के साथ भी यही बात रही। इलाहाबाद में अबतक बीजेपी नहीं जीत पाती थी। लेकिन इसबार इलाहाबाद की सभी सीटों पर बीजेपी ने जीत दर्ज की। ऐसा नहीं है कि बीजेपी को केवल यादव और दलितों ने वोट दिया। बड़ी तादाद में मुस्लिम वोटरों के मन को भी मोदी भा गए। यूपी में तकरीबन 100 सीटें मुस्लिम बहुल सीट है। इन 100 सीटों में से 71 सीटों पर बीजेपी ने जीत हासिल की।

Loading...

Leave a Reply