narender-modi-indus-water-treaty

मोदी सरकार देशभर में करेगी मुस्लिम पंचायत, कांग्रेस ने बताया चुनावी हथकंडा

मोदी सरकार देशभर में करेगी मुस्लिम पंचायत, कांग्रेस ने बताया चुनावी हथकंडा

दिल्ली: मोदी सरकार मुस्लिम समुदाय के उत्थान, विकास और उनकी दशा सुधारने के लिए मुस्लिम पंचायत शुरु करने जा रही है। सरकार ने इसे प्रगतिशील पंचायत नाम दिया है। इसमें मुस्लिमों की समस्याएं सुनी जाएगी। गुरुवार को इसकी शुरुआत हरियाणा के मेवात से होगी।

प्रगतिशील पंचायत शुरु करने के पीछे सरकार की सोच ये है कि इससे मुस्लिमों की समस्या का समाधान शीघ्र ढूंढने की कोशिश की जाएगी। हरियाणा के मेवात से शुरु होनेवाले इस पंचायत में केंद्र सरकार के अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी समेत कई दूसरे मंत्री भी शामिल होंगे। सरकार बता रही है इस तरह की पंचायत की जरुरत इसलिए महसूस की गई क्योंकि पिछली सरकार ने मुस्लिमों के लिए कुछ नहीं किया।

मोदी सरकार ये बता रही है कि मुस्लिम समुदाय की सभी समस्याओं को सुलझाने के लिए तैयार है। ये पंचायत मुस्लिमों के लिए ऐसा मंच होगा जहां वो अपनी बात और समस्याएं रख सकेंगे। लेकिन विरोधी सवाल पूछ रहे हैं कि दो साल से केंद्र में बीजेपी की सरकार है। लेकिन पंचायत का खयाल यूपी चुनाव से पहले क्यों आया।

यही वजह है कि केंद्र सरकार की इस नई शुरुआत पर भड़क गई है कांग्रेस। कांग्रेसी नेता का कहना है कि यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारी के लिए केंद्र सरकार ये सबकुछ कर रही है। कांग्रेस ने हमेशा से मुस्लिमों के लिए काम किया है।

कुछ दिन पहले पीएम मोदी ने कहा था कि दीन दयाल उपाध्याय कहते थे मुस्लिमों को वोटबैंक की तरह इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। उन्हें अपना समझना चाहिए। मोदी के इस बयान के बाद शिवसेना ने बीजेपी पर निशाना साधा है। शिवसेना का कहना है कि अल्पसंख्याकों की खुशामद की नौबत क्यों आ गई।
-News Trend India

Loading...

Leave a Reply