MNS के गुंडे इतने बेलगाम कैसे हो गए, कर्मचारी हाथ जोड़ते रहे वो दफ्तर तोड़ते रहे

नई दिल्ली:  MNS की गुंडागर्दी रूकने का नाम नहीं ले रही है। इसबार MNS के कार्यकर्ताओं ने यवतमाल के कृषि कार्यालय में जमकर तोड़फोड़ की। MNS कार्यकर्ता किसानों की आत्महत्या पर अपना गुस्सा जाहिर कर रहे थे। कृषि कार्यालय में तोड़फोड़ करते MNS कार्यकर्ता कैमरे में भी कौद हुए हैं।

जो वीडियो सामने आया है उसमें साफ दिख रहा है कि किस तरह से वो दफ्तर में तोड़फोड़ कर रहे हैं। जबकि वहां मौजूद अधिकारी उनके सामने हाथ जोड़कर खड़ा है। अधिकारी उनसे ऐसा ना करने की अपील कर रहा है। लेकिन गुंडागर्दी पर उतारू MNS कार्यकर्ता अधिकारी की एक नहीं सुनते हैं और वहां मौजूद कुर्सियों को मेज पर पटकने लगते हैं।

एक दिन पहले ही बुधवार को भी MNS कार्यकर्ताओं की गुंडागर्दी का एक और वीडियो सामने आया था। जिसमें महाराष्ट्र के सांगली में वो गैर मराठियों की पिटाई कर रहे थे। उनकी मांग थी कि यहां की फैक्ट्रियों में नौकरी में स्थानीय लोगों को तरजीह दी जाए। दरअसल MNS की राजनीति मराठी और गैरमराठी की राजनीति पर ही फलती फूलती है। इससे पहले भी कई बार MNS के कार्यकर्ता गैर मराठियों को लेकर अपनी गुंडागर्दी दिखा चुके हैं।

Loading...

Leave a Reply