mayawati-said-swami-prasad-maurya-is-selfish-and-traitor

मायावती की नजरों में स्वामी प्रसाद मौर्य ‘गद्दार’…मौर्य की नजर में मायावती ‘तानाशाह’

मायावती की नजरों में स्वामी प्रसाद मौर्य ‘गद्दार’…मौर्य की नजर में मायावती ‘तानाशाह’

स्वामी प्रसाद मौर्य के BSP छोड़ने के बाद दूसरी बार मायावती मीडिया के सामने आई। दरअसल मायावती ने विधायकों की बैठक बुलाई थी। उस बैठक के बाद मायावती ये बताने सामने आई कि पार्टी छोड़नेवालों का करियर खत्म हो गया। स्वामी प्रसाद मौर्य ने पार्टी के साथ गद्दारी कि है। उन्हें कभी माफ नहीं किया जाएगा। मायावती ने मौर्य पर परिवारवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि वो इसबार भी विधानसभा चुनाव में अपनी बेटी और बेटे के लिए टिकट मांग रहे थे। लेकिन उन्हें इनकार किया जा चुका था। उनके बारे में सालभर पहले से ही शिकायत मिल रही थी। सदन के भीतर वो जरुरी मुद्दों को नहीं उठाकर पार्टी को कमजोर करना चाहते थे। मायावती ने कहा कि बहुत से लोग पार्टी छोड़कर गए लेकिन एक या दो साल बाद वो मांफी मांगने आ गए। और पार्टी ने उन्हें अपने यहां जगह भी दी। मौर्य के बारे में मायावती के तेवर काफी सख्त थे। उन्होंने कहा कि जिस तरह से मौर्य ने अपने परिवार को चुनाव लड़वाने के लिए पार्टी छोड़ी है उसके बाद उनके लिए पार्टी के दरवाजे हमेशा के लिए बंद हो चुके हैं। किसी भी सूरत में स्वामी प्रसाद मौर्य की पार्टी में वापसी नहीं हो सकती। उन्होंने कहा कि 2012 में ही मौर्य को पार्टी से निकाल देती। लेकिन उस वक्त चुनाव का एलान हो चुका था इसलिए नहीं निकाला गया।

वहीं मायावती के इन आरोपों के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने मायावती पर पलटवार किया है। मौर्य ने कहा कि मायावती घुटने टेक चुकी है। मायावती तानाशाह हैं। BSP में पैसों का खेल हो रहा है। BSP सुप्रीमो मायावती ने सभी विधायकों की बैठक बुलाई थी। लेकिन उनमें से 6 विधायक नहीं पहुंचे। माना जा रहा है कि मौर्य के पार्टी छोड़ने के बाद ये विधायक भी पार्टी से नाराज हैं और मौर्य की तरफ से ईशारा होने का इंतजार कर रहे हैं। इस मामले पर मौर्य का कहना था कि हमने अपने सभी विधायकों को बैठक में भेजा था।

-Swami Prasad Maurya, Mayawati

Loading...

Leave a Reply