मंदसौर में डीएम को किसानों ने खदेड़ा, कपड़े फाड़े, थप्पड़ भी मारा

नई दिल्ली:  मंदसौर में गोली लगने से हुई पांच किसानों की मौत से गुस्साए लोग उस वक्त उग्र हो गए जब इलाके के डीएम लोगों से बात करने उनके बीच पहुंचे। आक्रोशित लोगों ने डीएम से बात करने से इनकार कर दिया और उन्हें वहां से खदेड़ दिया। लोगों ने डीएम स्वतंत्र सिंह के साथ धक्का मुक्की भी की। जिसमें डीएम स्वतंत्र सिंह के कपड़े भी फट गए। कुछ लोगों ने डीएम को थप्पड़ भी मारे हैं। किसी तरह से डीएम खुद को वहां से निकालने में कामयाब रहे। भीड़ में मौजूद लोगों में से ही कुछ लोगों ने उन्हें वहां से सुरक्षित बाहर निकाला।

लोगों की नाराजगी इसलिए ज्यादा थी क्योंकि डीएम और एसपी गोली चलने की घटना के इतनी देर बाद वहां पहुंचे थे। लोगों के बीच से बाहर निकलने के बाद स्वतंत्र सिंह ने कहा किसी को भी गोली चलाने का आदेश नहीं दिया गया था। उन्होंने कहा हमने किसानों को पूरी घटना की निष्पक्ष जांच और कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया है। प्रदर्शनकारी किसान राज्य के गृह मंत्री को घटना स्थल पर बुलाने की मांग कर रहे थे।

मंदसौर के बाद अब राज्य के कुछ दूसरे इलाकों से भी किसानों के उग्र होने की खबर है। जानकारी के मुताबिक कई जगहों पर किसानों ने पुलिस पर पथराव भी किया है। कुछ जगहों पर घटना को कवर करने गए मीडियाकर्मियों पर भी पथराव किये गए हैं। पथराव की घटना बारखेड़ा इलाके में हुई है। यहां कई गाड़ियों में आग भी लगाई गई है।

Loading...