पश्चिम बंगाल की सड़कों पर सेना की तैनाती, रातभर दफ्तर में रहीं CM ममता !

mamta-tweetनई दिल्लि: पश्चिम बंगाल में कई टोल प्लाजा पर कथित तौर पर सेना की तैनाती की गई है। लेकिन इस तैनाती पर राज्य की सीएम ममता बनर्जी भड़क गई हैं। उन्होंने कहा ऐसा बिना राज्य सरकार को विश्वास में लिये हुए किया गया है। ममता बनर्जी ने इसे आपताकाल बताया है। वहीं बीजेपी ने कहा है कि नोटबंदी की वजही से उनका सारा जमा पैसा बेकार हो गया। जिसकी वजह से वो अपना दिमागी संतुलन खो चुकी हैं।
wb-police-tweetममता ने गुरुवार को प्रेस कांफ्रेंस कर कहा जब देश में इमरजेंसी लगाई जाती है तो केंद्र सरकार राज्यों की कानून-व्यवस्था को अपने हाथ में ले लेती है। राष्ट्रपति इमरजेंसी की घोषणा करते हैं। लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ है। केंद्र सरकार ने सेना की जीप तैनात करने से पहले राज्य को अपने विश्वास में नहीं लिया।
राज्य सरकार के इस आरोप पर सेना की तरफ से कहा गया कि ये उनाक रुटीन अभ्यास है। इससे घबराने की जरुरत नहीं है। हलांकि सीएम ममता बनर्जी की तरफ से इस मुद्दे को उठाए जाने के बाद कई जगहों से सेना को हटा लिया गया है। ईस्टर्न कमांड ने ट्वीट कर कहा इस अभ्यास के बारे में पश्चिम बंगाल पुलिस को जानकारी है और उनके तालमेल के साथ चल रहा है। लेकिन पश्चिम बंगाल पुलिस ने इस दावे को खारिज करते हुए कहा राज्य सरकार की इजाजत के बगैर राज्य के ज्यादातर इलाकों में सेना की तैनाती की गई है।

कई टोल बूथों पर सेना की तैनाती के बाद सीएम ममता बनर्जी ने कहा उनकी पार्टी इस मुद्दे को संसद में उठाएगी। वहीं सेना की तैनाती के बाद ममता ने कहा सेना कई जिलों में मौजूद है। मैं आज रात दफ्तर में ही रहूंगी क्योंकि अपने लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी मेरी है।

Loading...