आलोचकों को धोनी ने दिया ये जवाब, सुनकर सब सन्न रह गए

नई दिल्ली:  टी-20 में धोनी की जगह को लेकर आलोचना हुआ तो धोनी की तरफ से अब उसपर जवाब दिया गया है। धोनी पर लक्ष्मण और अगरकर ने सवाल भी उठाए थे और आलोचना भी की थी। लेकिन उनकी आलोचनाओं पर धोनी में बिल्कुल शांत और सधी हुई प्रतिक्रिया दी है। धोनी ने दुबई में कहा कि मैदान पर वही करता हूं जो मुझे सही लगता है और ऐसा करने में परिणाम की चिंता नहीं करता हूं।

दुबई में अपनी क्रिकेट अकेडमी लॉन्च करते हुए धोनी ने खलीज टाइम्स को दिये इंटर्व्यू में कहा सभी के अपने अपने विचार होते हैं और उनका सम्मान होना चाहिए। सभी को अपनी बात कहने का हक है। टीम इंडिया का हिस्सा होना ही मेरे लिए सबसे बड़ी प्रेरणा है। धोनी ने आगे कहा मैंने हमेशा से माना है नतीजों से अहम प्रक्रिया होती है। मैंने कभी परिणाम के बारे में नहीं सोचा। मैंने हमेशा यही सोचा कि उस समय क्या करना ठीक होगा। भले ही तब 10 रन की जरुरत हो,14 रन की जरुरत हो या फिर पांच रन की जरूरत हो। मैं इस प्रिक्रिया में ही इतना शामिल रहा और मैंने कभी भी इस बात का बोझ नहीं लिया कि तब क्या होगा, अगर नतीजे मेरे हिसाब से नहीं रहे।

धोनी का ये जबाब तब आया है जब राजकोट में न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टी-20 में हार के बाद धोनी पर कई पूर्व क्रिकेटरों ने निशाना साधा था। उनकी आलोचना करते हुए उनका विकल्प तलाशने की बात कही थी। अजीत अगरकर ने कहा था कि टीम मैनेजमेंट को टी-20 में धोनी का विकल्प तलाशने की जरुरत है। वीवीएस लक्ष्मण ने राजकोट टी 20 में धोनी के स्ट्राइक रेट के लोकर सवाल उठाए थे।

हलांकि इन आलोचनाओं पर टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री ने कहा था कुछ बुरे लोग उनके करियर को समाप्त होते हुए देखना चाहते हैं। ऐसा लग रहा है कि उनके पास उनसे जलने वाले कई लोग हैं। जो उनके करियर के बुरे दिन देखना चाहते हैं।

Loading...

Leave a Reply