लखनऊ मेट्रो ने पहले सफर में ही बीच रास्ते में उतार दिया

लखनऊ:  मंगलवार को यूपी के सीएम अखिलेश यादव ने लखनऊ मेट्रो को हरी झंडी दिखाई थी। बुधवार को जब लखनऊ के नागरिक सूबे के सरदार की इस नई शुरुआत में सफर करने निकले तो खुशी में सराबोर थे। घर से सवेरे सवेरे निकल लिये थे ये सोच कर की कहीं लखनऊ वाली मेट्रो में भीड़ ना हो जाए और मजा फीका ना कर दे। किसी को स्कूल जाना था तो किसी को दफ्तर तो कुछ लोग मॉर्निंग वॉक करते करते लखनऊ की मेट्रो में सवार हो गए थे।

सुबह 6 बजे मेट्रो ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग के लिए चली। लेकिन दुर्गापुरी और मवईया के बीच पहुंच कर आगे बढ़ने से इनकार करने लगी। क्योंकि पहले ही दिन मोट्रो में खराबी आ गई। जिसे दूर करने में इंजीनियर जुटे रहे और मेट्रो में सवार मुसाफिर परेशान होते रहे। ट्रेन के भीतर लगे इमरजेंसी बटन को दबाकर मुसाफिर अपनी आवाज मट्रो के ड्राइवर तक पहुंचाने की कोशिश करते रहे लेकिन ड्राइवर भी क्या कहता। बस इतना ही बता पाया कि जैसे ही खराबी दूर होगी मेट्रो चल पड़ेगी।

आलमबाग के पास मेट्रो अटकी रही। ट्रेन में सवार यात्रियों को इमरजेंसी एग्जिट से बाहर निकाला गया। मेट्रो में वातानुकूलित माहौल में सफर का मजा लेने निकले यात्रियों को बीच रास्ते से अगले स्टेशन तक के लिए पैदल मार्च पर निकला पड़ा। क्योंकि अपने पहले ही सफर पर मेट्रो खराब हो गई ।

Loading...

Leave a Reply