अखिलेश के ड्रीम प्रोजेक्ट लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे की जांच शुरु

लखनऊ:  यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव के ड्रीम प्रोजेक्ट में हुई गड़बड़ियों की जांच आधिकारिक तौर पर शुरु कर दी गई है। इस मामले में आज उत्तर प्रदेश एक्सप्रेसवेज इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट अथॉरिटी के सीईओ अवनीश अवस्थी ने एक्सप्रेस-वे पर अलग-अलग जगहों से सैंपल इकट्ठे किये। यूपी में योगी सरकार बनने के बाद ही इस बात की जानकारी दी गई थी कि लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे के निर्माण और इसके लिए हुए जमीन अधिग्रहण की जांच की जाएगी।

UPEIDA के CEO अवनीश अवस्थी ने लखनऊ से इटावा तक के रास्ते पर से पांच जगहों से निर्माण सामग्री के नमूने जमा किये। ये एक्सप्रेस वे इसलिए खास है क्योंकि अखिलेश यादव ने अपने हर चुनावी सभा में इसका जिक्र किया था। उन्होंने दावा किया था कि जिस रिकॉर्ड समय में इसे तैयार किया गया है उतने कम वक्त में कोई भी प्रोजेक्ट पूरा नहीं किया जाता है।

एक चुनावी सभा में अखिलेश ने यहां तक कहा था कि अगर पीएम मोदी भी एकबार इस एक्सप्रेस-वे से गुजर जाएंगे तो वो भी समाजवादी पार्टी को ही वोट देंगे। अब अखिलेश के उसी बेहद खास प्रोजेक्ट की जांच शुरु की गई है। इस प्रोजेक्ट को लेकर किसानों को मिलनेवाले मुआवजे पर भी अनियमितता के आरोप लग रहे हैं। जमीन अधिग्रहण में आरोप ये लगाए गए कि काफी जमीन को रिहाइशी दिखाकर उनलोगों को ऊंचा मुआवजा दिया गया।

Loading...