बाथरुम नहीं जाने दिया तो स्कूल पर लगा साढ़े 8 करोड़ का जुर्माना

बाथरुम नहीं जाने दिया तो स्कूल पर लगा साढ़े 8 करोड़ का जुर्माना




नई दिल्ली: स्कूल से जुड़ा बेहद ही अलग तरह का मामला सामने आया है। मामला लॉस एंजिलिस का है। जहां बाथरुम के लिए क्लास से ब्रेक नहीं मिलने पर एक बच्ची को बाल्टी में पेशाब करनी पड़ी थी। मामला 2012 का है। पैट्रिक हेनरी हाई स्कूल की एक छात्रा को क्लास के बीच में बाथरुम जाना था। लेकिन स्कूल में बाथरुम के लिए ब्रेक को लेकर काफी सख्त नियम बनाए गए थे।

स्कूल के उन्हीं नियमों का हवाला देकर टीचर ने छात्रा को बाथरुम नहीं जाने दिया। तब उस छात्रा की उम्र 14 साल की थी। टीचर ने उसे क्लास के बगल में बने सप्लाई रुम में रखी बाल्टी में पेशाब कर उसे सिंक में डाल देने के लिए कहा। छात्रा ने वैसा ही किया। लेकिन उसके बाद क्लास के बाकी छात्र उसका मजाक उड़ाने लगे। इससे परेशान होकर छात्रा ने खुदकुशी की भी कोशिश की।

बाद में ये मामला कोर्ट पहुंचा। जहां छात्रा की तरफ से 25 हजार डॉलर (17 लाख) मुआवजे की मांग की गई। लेकिन अदालत ने इसे काफी संगीन मामला माना। इसलिए स्कूल पर सख्ती करते हुए अदालत ने लड़की को 1.25 यानि (साढ़े आठ करोड़ रु) के मुआवजा का हकदार पाया। अदालत ने स्कूल को बच्ची को साढ़े आठ करोड़ रुपये मुआवजा देने का आदेश दिया है। लड़की की उम्र अब 18 साल हो चुकी है। उसके परिवारवाले अदालत के इस फैसले से खुश हैं।

Loading...

Leave a Reply