विपक्ष का दावा खारिज, EC का जवाब ‘सुरक्षित है EVM’ जानिये EVM की कैसी सुरक्षा होती है

नई दिल्ली:  EVM में गड़बड़ी के मामले पर 22 विपक्षी दलों ने आज चुनाव आयोग में अपनी मांग रखी थी। जिसके बाद चुनाव आयोग की तरफ से कहा गया कि EVM में किसी तरह की छड़छाड़ संभव नहीं है और EVM पूरी तरह से सुरक्षित है। साथ ही आयोग की तरफ से कहा गया है कि सोशल मीडिया जो वीडियो दिखाए जा रहे हैं EVM को लेकर वो पूरी तरह से फर्जी हैं और उनमें किसी तरह की सत्यता नहीं है।

आईये अब जानते हैं वोटिंग के बाद स्ट्रॉन्ग रुम में EVM को सुरक्षित रखने के लिए किस तरह के इंतजाम किये जाते हैं।

EVM के साथ छेड़छाड़ को लेकर पहले भी सवाल उठाए जाते रहे हैं। जिसके बाद चुनाव आयोग ने भी समय समय पर साफ किया है कि EVM के साथ छेड़छाड़ संभव नहीं है। लेकिन राजनीतिक दल खासकर विपक्ष इस बात को मानने के लिए तैयार नहीं है।

वोटिंग का काम संपन्न होने के बाद मतदान अधिकारी EVM में लगे Close बटन को दबा देता है। जिससे EVM पूरी तरह से बंद हो जाती है। इसके बाद EVM का कोई बटन काम नहीं करता है। इस बटन को दबाते ही EVM की स्क्रीन पर पोलिंग क्लोज टाइमिंग और टोटल वोट काउंट हो जाते हैं। इसके बाद पीठासीन अधिकारी तीनों यूनिट (कंट्रोल यूनिट, दूसरी बैलट यूनिट और तीसरी वीवीपैट) को अलग कर देते हैं।

आगे की रिपोर्ट पढ़ने के लिए अगले पेज पर जाएं

(Visited 86 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *