SC में लोढ़ा कमेटी ने कहा, BCCI नहीं मान रही सिफारिश, कर रही मनमानी!

दिल्ली: BCCI के कायाकल्प और उसके प्रशासनिक ढांचे में सुधार लाने के लिए लोढ़ा कमेटी बनाई गई थी। कमेटी ने सुप्रीम कोर्ट में अपनी स्टेटस रिपोर्ट सौंप दी है। जिसमें कमेटी की तरफ से कहा गया है कि उनकी तरफ से सुझाए गए प्रशासनिक सुधारों को BCCI लागू नहीं कर रहा है। कमेटी ने SC से इसपर जल्द सुनावई की गुजारिश भी की है।

कमेटी ने BCCI अध्यक्ष अनुराग ठाकुर समेत कई आला अधिकारियों को बदलने की मांग की है। कमेटी का कहना है कि BCCI खुद को नियम कायदों से ऊपर मानता है। यही वजह है कि उनकी सिफारिशों को खारिज किया जा रहा है। सुप्रीम कोर्ट ने भी BCCI के इस रवैये पर नाराजगी जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने BCCI से 6 अक्टूबर तक जवाब मांगा है।

लोढ़ा कमेटी पर पूर्व कप्तानों ने भी सवाल उठाए हैं। सुनील गावस्कर और कपिल देव का मानना था कि कुछ सिफारिशें काफी कड़ी हैं। जिसमें एक राज्य एक वोट और प्रशासकों के लिए तीन साल का ब्रेक शामिल है। रवि शास्त्री की प्रतिक्रिया भी वही थी जो गावस्कर और कपिल देव की थी। उन्होंने विवाद सुलझाने के लिए BCCI और लोढ़ा समिति के बीत बातचीत की वकालत की थी। इनका मानना है कि काम करने और BCCI का ढांचा अलग तरह का है इसलिए समिति की सारी सिफारिशें BCCI के लिए फायदेमंद नहीं है।
-BCCI, RM Lodha, News Trend India

Loading...

Leave a Reply