लश्कर कमांडर अबु दुजाना पुलवामा में मारा गया, 35,00,000 का इनाम था

नई दिल्ली:  जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। आज जम्मू कश्मीर पुलिस और सेना के संयुक्त ऑपरेशन में लश्कर कमांडर अबु दुजाना मारा गया। अबु दुजाना बुरहान वानी के बाद लश्कर का बड़ा आतंकी था। दुजाना A++ कैटेगरी का आतंकी था। उसपर 35 लाख रुपये के इनाम थे। अज सुबह पुलवामा में हुए एनकाउंटर में अबु दुजाना को मार गिराया गया। दुजाना के साथ दो और आतंकी भी थे। सुरक्षाबलों ने उन दोनों आतंकियों को भी मार गिराया है।

सुरक्षाबलों ने कुछ दिन पहले भी अबु दुजाना को घेरा था। लेकिन वो बच निकलने में कामयाब रहा था। उस मुठभेड़ में दुजाना घायल हो गया था। लेकिन इसबार सुरक्षाबलों के घेराबंदी के सामने दुजाना की एक नहीं चली और वो मारा गया। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में काकापोरा इलाके में अबु दुजाना अपने दो साथियों के साथ छिपा था। सुरक्षा बलों ने पहले उस घर को धमाके में उड़ा दिया। जिसके बाद वहां भाग रहे एक आतंकी को सुरक्षाबलों ने घर के बाहर निकलते ही मार गिराया। उसके बाद बाकी दो आतंकियों को भी मार गिराया गया। जिनमें से एक आतंकी लश्कर कमांडर अबु दुजाना था।

अबु दुजाना दक्षिण कश्मीर में खासतौर से सक्रिय था। पाकिस्तान से सीमा पार कर कश्मीर में दाखिल होने वाले लश्कर आतंकियों को दुजाना ही अलग अलग जगहों पर पहुंचाता था। उन्हें हथियार और रसद भी दुजाना की तरफ से ही दिया जाता था। उन आतंकियों को कहां, कब और किसपर हमला करना है इसके बारे में भी दुजाना ही उन्हें बताया करता था। पंपोर और 2015 में उधमपुर में बीएसएफ पर हुए आतंकी हमले में भी दुजाना शामिल था।

दुजाना समेत तीनों आतंकियों के साथ सुबहर साढ़े चार बजे मुठभेड़ शुरु हुई थी। चुकी दुजाना कश्मीर का ही रहनेवाला था इसलिए सुरक्षाबलों की कोशिश थी कि जल्द से जल्द इस ऑपरेशन को पूरा किया जाए। क्योंकि उसकी जानकारी अगर गांव वालों तक पहुंच जाती तो वहां लोग इकट्ठे होने लगते। इसी वजह से घाटी में मोबाइल और इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है। कुछ जगहों पर इस एनकाउंटर के समर्थन में प्रदर्शन भी होने लगे हैं।

Loading...

Leave a Reply