नीतीश ने इस्तीफा नहीं मांगा तो तेजस्वी इस्तीफा काहे देंगे-लालू यादव

पटना:  आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने तेजस्वी यादव के इस्तीफे पर एक बार फिर से साफ कर दिया कि डिप्टी सीएम और उनके पुत्र तेजस्वी यादव इस्तीफा नहीं देंगे। लालू यादव ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि नीतीश ने कभी तेजस्वी से इस्तीफा नहीं मांगा। उन्होंने कहा हमारी नीतीश से हमेशा बात होती रहती है। महागठबंधन में कोई दरार नहीं है। ये महागठबंधन 5 सालों तक चलेगा।

लालू ने कहा सीबीआई ने हमपर केस किया है। जहां सफाई देनी होगी वहां देंगे। मीडिया की कोशिश महागठबंधन में दरार पैदा करने की है। लेकिन महागठबंधन अटूट है और उसमें कोई दरार नहीं है। हमने बड़ी मेहनत से महागठबंधन बनाया है। ये पूरे पांच साल तक चलेगा। नीतीश इस महागठबंधन के नेता हैं और उनके प्रति हम अनादर का कोई भाव मंजूर नहीं करेंगे।

तेजस्वी यादव ने भी कहा कि नीतीश की तरफ से उन्हें इस्तीफा देने के लिए नहीं कहा गया है। लालू ने कहा कल रात भी मेरी नीतीश से बात हुई है। हमरे बीच किसी तरह का कोई मतभेद या लड़ाई नहीं है। हमने महागठबंधन बनाया है। नीतीश को उसका नेता बनाया है हम उन्हें क्यों गिराएंगे।

दरअसल शुक्रवार से बिहार विधानसभा का मानसून सत्र शुरु हो रहा है। इसलिए एक फिर से तेजस्वी के इस्तीफे की बात जोर पकड़ने लगी। सूत्रों के हवाले से ये खबर आ रही थी कि मानसून सत्र की शुरुआत से पहले नीतीश तेजस्वी का इस्तीफा चाहते हैं। लेकिन जो बात लालू यादव ने कही वो उससे बिल्कुल उलट हैं।

लालू भले ही  ये कह रहे हैं कि हमारे और नीतीश के बीच किसी तरह की तल्खी नहीं है। लेकिन मतभेद किस स्तर तक पहुंच चुका है ये तो लोगों ने उसी दिन देख लिया था जब पटना में राज्य सरकार की तरफ से आयोजित कौशल विकास कार्यक्रम में डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव नहीं पहुंचे थे। जबकि इस कार्यक्रम में सीएम नीतीश कुमार मौजूद थे।

इस कार्यक्रम के लिए छपवाए गए इनविटेशन कार्ड पर भी तेजस्वी यादव का नाम था। सीएम के बगल में उनकी कुर्सी भी लगाई गई थी। लेकिन जब तेजस्वी नहीं पहुंचे तो उनकी कुर्सी वहां से हटाई गई और मेज पर लगाई गई उनके नाम की तख्ती को ढंक दिया गया था। इसलिए ये कहना कि सीएम और डिप्टी सीएम के बीच सबकुछ ठीक है ये बात जरा हजम करना मुश्किल है।

Loading...

Leave a Reply