योग गुरु रामदेव ने लालू का किया मेकओवर

योग गुरु रामदेव ने लालू का किया मेकओवर

  • दिल्ली में योग और सियासत का अनुलोम विलोम
  • रामदेव ने कहा ‘लालू जी कुछ मीठा हो जाए’

योग और सियासत के इस मिलन की उम्मीद कम ही लोगों को रही होगी। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि जो कभी एक दूसरे के धुर विरोधी रहे आज दिल्ली में मुलाकात के बाद इस बात का एहसास कर पाना मुश्किल था की कभी इनके बीच कड़वाहट के बोल बोले जाते थे। जी हां यहां बात हो रही है योग गुरु रामदेव और आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की।

दिल्ली में इन दोनों के बीच मुलाकात में नजारा पहले से बिल्कुल जुदा था। दिल्ली में लालू के घर रामदेव अपने पतंजली के उत्पाद लेकर पहुंचे थे। केवल पहुंचे ही नहीं बाकायदा एक-एक कर उन प्रोडक्ट्स का डेमोस्ट्रेशन भी दिया। रामदेव ने ये डेमोस्ट्रेशन किसी औऱ पर नहीं बल्की लालू यादव पर ही किया। इसके बीच बीच में दोनों एक दूसरे की बातों पर चुटकी भी लेते रहे।

लालू ने लगाई गोल्डन क्रीम
पतंजलि ने हाल ही में गोल्डन क्रीम ल़ॉन्च की है। जिसमें दावा किया गया है कि बगैर किसी साइड इफेक्ट के ये क्रीम चेहरे को चमका देता है। लालू के घर भी रामदेव इस क्रीम को ले गए थे। जिसे रामदेव ने लालू के चेहरे पर लगाया। फिर क्या था दिल्ली के आसमान में सूरज चमक रहा था औऱ गोल्डन क्रीम लगाने के बाद रामदेव के सामने खड़े लालू का चेहरा चमक रहा था।

क्रीम के बाद बारी आई सुपरस्टार चॉकलेट की
दिल्ली में जहां रामदेव और लालू के बीच की पुरानी कड़वाहट दूर हुई थी तो वहां पर भला मुंह मीठा कैसे नहीं कराया जाता। बाबा ने इसका भी इंतजाम किया था। रामदेव ने अपने सुपर स्टार चॉकलेट से लालू का मुंह मीठा कराया।

लेकिन अभी काफी कुछ होना और काफी कुछ करना कहना बाकी था। चेहरे पर गोल्डन क्रीम और मुंह में सुपरस्टार चॉकलेट खाने के बाद बारी आई योग करने की। जिसमें अनुलोम विलोम के जरिये बाबा ने लालू को दिमाग को स्वस्थ्य, मन के विचार पर नियंत्रण करने का तरीका बताया। अब जहां इतना सबकुछ हुआ वहां भला उन पुरानी बातों का जिक्र कैसे नहीं होता जिसपर रामदेव और लालू कुछ महीनों पहले तक आमने-सामने हुआ करते थे।
अब बात उस वक्त की करते हैं जब लालू ने रामदेव को मेंटल तक कह दिया था। आज जब लालू से मेंटल वाले बयान पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा मेंटल नहीं मेंटॉर कहा था। 2015 में लालू यादव ने कहा था कि गलत दवाई बेचकर रामदेव का दिमाग खराब हो गया है। लालू ने ये भी कहा था कि रामदेव राधू नहीं स्वादू हैं। कालेधन पर जब रामदेव ने मोदी सरकार का बचाव किया तब लालू ने कहा था रामदेव बीजेपी का समर्थन कर रहे हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान लालू ने रामदेव पर बीजेपी के लिए प्रचार करने का आरोप भी लगाया था। पतंजलि की दवाई पर लालू ने कहा था कि रामदेव अपनी दवाई में हड्डी का चूरा मिलाते हैं। इसके जवाब में आज लालू का कहना था कि चाहे हड्डी मिला हो या कुछ और अगर उससे इंसान को फायदा होता है तो इसमें क्या बुराई है। अब बात रामदेव की कर लेते हैं। कुछ दिनों पहले लालू यादव ने बीफ के मामले पर बयान दिया था जिसके जवाब में रामदेव ने कहा था कि लालू यदुवंश के नहीं बल्की कंश के वंशज हैं। आगे रामदेव ने कहा था कि लालू के भीतर शैतान बस गया है इसलिए वो बीफ खाने की बात कर रहे हैं।

लेकिन आज जब दिल्ली में रामदेव और लालू यादव के बीच मुलाकात हुई तो उसमें दोनों के सुर और साज सबकुछ बदले हुए थे। रामदेव ने तो यहां तक कह दिया की लालू जी के गुस्से में भी प्यार है। यानि एक तरह से कहा जा सकता है कि योग ने रामदेव और लालू की दोस्ती करा दी है। दरअसल रामदेव अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर लालू यादव को निमंत्रण देने गए थे।

Loading...

Leave a Reply