पटना में PM के मंच पर नहीं मिली लालू को जगह, दोनों बेटों के साथ जमीन पर बैठे

पटना: गुरु गोविंद सिंह जी के 350वें प्रकाश पर्व पर पीएम मोदी पटना पहुंचे थे। पीएम के लिए जो मंच तैयार किया गया था उसपर चुनिंदा लोगों को ही बैठने की इजाजत थी। जिन लोगों को मंच पर बैठने की इजाजत दी गई थी उनमें आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव और उनके डिप्टी सीएम बेटे तेजस्वी यादव का नाम नहीं था। लालू के दूसरे मंत्री बेटे का नाम भी मंच पर बैठनेवालों में नहीं था।

लालू अपने दोनों बेटों के साथ प्रकाश पर्व में शामिल होने के लिए पटना के गांधी मैदान पहुंचे थे। लेकिन मंच पर बैठने की इजाजत नहीं होने की वजह से उन्हें जमीन पर बैठना पड़ा। सूत्रों के मुताबिक लालू इससे काफी नाराज हैं और वो बिहार के सीएम से इसकी शिकायत करनेवाले हैं। गौरतलब है कि बिहार में जेडीयू-आरजेडी की गठबंधन सरकार है।

पटना में पीएम के मंच पर कुछ चुनिंदा लोगों को ही बैठने की इजाजत थी। जिनमें पीएम नरेंद्र मोदी, पंजाब के सीएम प्रकाश सिंह बादल, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, बिहार के राज्यपाल राम नाथ कोविंद, पटना तख्त मंदिर के अध्यक्ष अवतार सिंह मक्कर, अमृतसर तख्त मंदिर के अध्यक्ष और बिहार के मुख्य सचिव।

केंद्र सरकार को दो मंत्रियों रविशंकर प्रसाद और राम विलास पासवान को पीएमओ के दखल के बाद मंच पर बैठने की इजाजत मिली। सूत्रों के मुताबिक मंच पर किसी भी केंद्रीय मंत्री को जगह नहीं दी गई थी। जिसके बाद उन्होंने इसकी शिकायत पीएमओ से की। जिसके बाद पीएमओ ने बिहार सरकार को इन्हें मंच पर जगह देने के निर्देश दिये। तब जाकर इन दोनों मंत्रियों को मंच पर बैठने की इजाजत मिली। वहां एक और भी केंद्रीय मंत्री थीं हरसिमरत कौर। लेकिन इजाजत मिलने के बाद भी वो मंच पर नहीं गईं।

Loading...

Leave a Reply