भारत की कड़ी चेतावनी के आगे झुका पाकिस्तान, कुलभूषण को मिलेगा जीनवदान!

नई दिल्ली: पूर्व नौ सेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान में मिली मौत की सजा पर भारत की कड़ी चेतावनी के बाद पाकिस्तान के रक्षा मंत्री का बयान आया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि कुलभूषण के पास अपील के लिए 60 दिनों का वक्त है। कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की अदालत ने फांसी की सजा सुनाई है। यानि इन 60 दिनों में पाकिस्तान के अदालत में सुनाई गई सजा के खिलाफ अपील की जा सकती है।

पाकिस्तान सरकार ने दावा किया था कि कुलभूषण जाधव भारत का जासूस था। और उसे बलूचिस्तान से गिरफ्तार किया गया था। लेकिन भारत ने पाकिस्तान की इस दलील को खारिज कर दिया। आज संसद में गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि कुलभूषण को इरान से अगवा किया गया था। साथ ही राजनाथ सिंह ने ये भी कहा कि कुलभूषण को बचाने के लिए हर संभव कदम उठाए जाएंगे।

ये भी पढें :

– योगी कैबिनेट के फैसलों से किसानों की लग गई लॉटरी, बिजली उपभोक्ता भी गदगद
– मोदी से बोले ऑस्ट्रेलिया के पीएम टर्नबुल, NPT पर बिना दस्तखत के हम देंगे यूरेनियम

वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि कुलभूषण जाधव केवल एक मां का बेटा नहीं है बल्कि पूरे देश का बेटा है। और उसे बचाने के लिए जो कुछ भी करना पड़ेगा हम करेंगे। विदेश मंत्री ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि कुलभूषण को बचाने के लिए भारत सरकार ‘आउट ऑफ द वे’ जाकर भी काम करने के लिए तैयार है।

सुषमा का ये कहना कि भारत सरकार ‘आउट ऑफ द वे’ जाकर कुलभूषण को बचाएगी ये बात पाकिस्तान के लिए कड़ी चेतावनी है। वहीं पाकिस्तानी मीडिया ने भी कहा है कि अगर कुलभूषण को फांसी दी जाती है तो पाकिस्तान सरकार को गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। पाकिस्तानी मीडिया ने कहा है कि जाधव को फांसी देने से भारत के साथ रिश्ते में और तल्खी आएगी। साथ ही इसकी अंतरराष्ट्रीय मंच पर भी प्रतिक्रिया देखने को मिल सकती है। पाकिस्तानी पत्रकारों ने जाधव के खिलाफ जुटाए सबूत को सार्वजनिक करने की भी मांग की है। एमनेस्टी इंटरनेशनल ने भी कुलभूषण जाधव को फांसी की सजा देने की निंदा की थी।

Loading...

Leave a Reply