राम रहीम पर फैसला सुनाने वाले जज ने इससे पहले भी किये हैं कई बड़े काम

नई दिल्ली:  गुरमीर राम रहीम को बलात्कार के मामले में दोषी ठहराने के बाद हर कोई यह जानना चाहता है कि जिस सीबीआई के जज ने उनके खिलाफ फैसला सुनाया वो कौन हैं। यहां हम आपको उनके बारे में विस्तार से बताएंगे। राम रहीम को वही जज 28 अगस्त को इस मामले में सजा सुनाएंगे। बताया जा रहा है बलात्कारी राम रहीम को 7 साल या फिर आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा सकती है।

सीबीआई की विशेष अदालत में जिस जज ने राम रहीम पर फैसला सुनाया उनका नाम है जगदीप सिंह। जगदीप सिहं हरियाणा के जींद के रहनेवाले हैं। उन्हें काफी सख्त मिजाज माना जाता है। उनके इस बेखौफ अंदाज और मिजाज की वजह से ही उन्हें इस बेहद ही संवेदनशील केस सौंपा गया था। जगदीप सिंह न्यायिक सेवा के एडीजी स्तर के अधिकारी हैं। वो 2012 में न्यायिक सेवा में आए थे।

सीबीआई के जज बनने से पहले जगदीप सिंह पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट में क्रिमनल मामलों के वकील के तौर पर काम करते थे। 2000 से लेकर 2012 तक वो आपराधिक मामलों के मुकदमे लड़ रहे थे। 2012 में हरियाणा की न्यायिक सेवा में वो शामिल हुए। और पिछले साल ही सीबीआई स्पेशल जज के लिए उन्हें चुना गया था। न्यायिक अधिकारी के तौर पर ये उनकी दूसरी पोस्टिंग है।

सीबीआई कोर्ट में पोस्टिंग से पहले कई प्रक्रिया पूरी की जाती है। लेकिन सख्त मिजाज जगदीप सिंह उन सभी में पास होते चले गए। उन्हें जानने वाले भी उनपर पूरा यकीन करते हैं। इससे पहले जगदीप सिंह तब सुर्खियों मे आए थे जब 2016 में वो हिसार से पंचकुला जा रहे थे। इस दौरान उनकी नजर सड़क दुर्घटना में घायल चार युवकों पर पड़ी थी। उनकी मदद के लिए जगदीप ने एंबुलेंस को फोन किया। लेकिन एंबुलेंस आने में जब देरी हुई तो उन्होंने निजी वाहन से उन्होंने उन चारों घायलों को अस्पताल पहुंचाया था।

Loading...

Leave a Reply