रात के 12 बजे बर्थडे केक काटा और 12.30 बजे हो गई मौत, बाथरूम में थी 11 लाश

मुंबई:  मुंबई के कमला मिल्स कंपाउंड में लगी आग में खुशबू बंसल अपना जन्मदिन सलिब्रेट कर रही थीं। लेकिन उन्हें पता नहीं था कि उनका ये साल जिंदगी का आखिरी साल साबित होगा। खुशबू अबव पब में अपने परिवारवालों और दोस्तों के साथ मौजूद थीं। खुशबू का ये 29वां जन्मदिन था। केक काटने के बाद सभी खुशियां मना रहे थे। लेकिन तभी 12.30 बजे पब में आग लग गई।

सभी अपनी जान बचाने के लिए इधर उधर भागने लगे। कई लोगों ने खुद को बाथरूम में बंद कर लिया। ये सोचकर कि दरवाजा बंद कर लेने पर धुआं भीतर नहीं आएगा। बाथरूम का नल और शावर उन्होंने खोल दिया था। लेकिन आग इतनी भयंकर थी कि उसका धुआं पब में बने बाथरूम में भी भर गया।

बाथरूम में धुआं भरने से वहां मौजूद सभी लोगों की मौत हो गई। आग बुझाने के लिए जब दमकल की टीम पब के भीतर दाखिल हुई तो बाथरूम का दरवाजा भीतर से बंद था। जब बाथरूम का दरवाजा तोड़ा गया तो उसके भीतर 11 लड़कियों की लाश मौजूद थी। ये सभी खुशबू की बर्थ डे पार्टी में शामिल होने अबव पब आई थीं।

आग लगने के इस मामले ने बीएमसी और मुंबई दमकल विभाग के काम करने के तरीकों पर भी सवाल उठा दिये हैं। महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कमला मिल्स कंपाउंड का दौरा किया है। जिसके बाद बीएमसी के पांच अफसरों को सस्पेंड कर दिया गया है जबकि एक का ट्रांसफर कर दिया गया है। मामले की जांच बीएमसी कमिश्नर को सौंपी गई है।

अबव पब में छत पर बना था पब। जबकि उसके पास छत पर पब चलाने का लाइसेंस नहीं था। इस अग्निकांड में 14 लोगों की मौत हुई जबकि 55 लोग आग में झुलसे।

Loading...