mahesh-giri

BJP को घेरने के चक्कर में खुद ही घिर गए Kejriwal !

BJP को घेरने के चक्कर में खुद ही घिर गए Kejriwal !

  • हत्या के मामले में क्या ओपन डिबेट होगा- Kejriwal

एनडीएमसी के लॉ ऑफिसर एमएम खान की हत्या के मामले में BJP सासंद महेश गिरी पर आरोप लगाना दिल्ली के सीएम Arvind Kejriwal पर ही भारी पड़ता दिखाई दे रहा है। Kejriwal की तरफ से आरोप लगाने के बाद पूर्वी दिल्ली से सांसद महेश गिरि ने Kejriwal को 19 जून को कॉस्टीट्यूशन क्लब में शाम चार बजे बहस की चुनौती दी थी। लेकिन जब अरविंद Kejriwal बहस करने नहीं पहुंचे तो महेश गिरी ही पहुंच गए सीए आवास के सामने। केवल पहुंचे ही नहीं वहां पहुंच कर आमरण अनशन पर बैठ गए। मांग ये रख दी कि जबतक Kejriwal उनपर लगाए आरोप पर सार्वजनिक तौर पर माफी नहीं मांगेगे तबतक आमरण अनशन से नहीं हटूंगा। रविवार की रात बीत गई। सोमवार के दिन की शुरुआत हुई। सुबह से दोपहर हो गई लेकिन सीएम अरविंद Kejriwal कहीं नजर नहीं आए। जबकि महेश गिरी ठीक उनके घर के बाहर ही आमरण अनशन पर बैठे रहे।
Swamy WITH MAHESH GERI
सोमवार का दिन जैसे-जैसे बीतता गया वैसे वैसे महेश गिरी के आसपास भीड़ बढ़ती गई। राज्यसभा में बीजेपी सासंद सुब्रमण्यम स्वामी महेश गिरी का साथ देने धरना स्थल पर पहुंचे। उन्होंने भी Kejriwal पर धमाकेदार हमला किया। सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि ‘दिल्ली सरकार को बर्खास्त कर देना चाहिए। राज्य की बदहाली के बारे में मैं गृह मंत्री राजनाथ सिंह से बात करुंगा। स्वामी ने उप राज्यपाल नजीब जंग पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि दिल्ली के उप राज्यपाल को बर्खास्त कर देना चाहिए। ये भी रोज अहमद पटेल की सलाह पर काम करते हैं। संविधान के खिलाफ काम कर रहे हैं।‘

mahesh-giri-manoj-tiwariस्वामी के बाद सांसद मनोज तिवारी भी पहुंच गए महेश गिरी के समर्थन में। उन्होंने भी Kejriwal से अपनी गलती का एहसास कर माफी मांगने की मांग की।
इस बीच महेश गिरी अपनी जिद पर अड़े हैं कि जबतक Kejriwal सामने आकर माफी नहीं मांगेगे तबतक आमरण अनशन जारी रहेगा। आज Kejriwal अपने उसी ब्रह्मास्त्र के सामने लाचार खड़े हैं जिसके बल पर वो एक सामाजिक कार्यकर्ता से राजनेता और फिर दिल्ली के सीएम बने, यानि धरना और आमरण अनशन। आज उन्हें भी अनशन की शक्ति का एहसास हो रहा होगा। कभी इसी अनशन की जिद को लेकर वो जंतर मंतर और रेल भवन के सामने धरना देते थे । आज एक धरना उनके सीएम आवास के सामने चल रहा है लेकिन उसका सामना करने का साहस जुटाने में काफी मशक्कत करनी पड़ रही है सीएम अरविंद Kejriwal को। मामले ने जब तूल पकड़ा तो सीएम kejriwal इतना ही कहा कि ‘हत्या के मामले में क्या ओपन डिबेट होगा, महेश गिरी ने आरोपी की पैरवी की साथ ही उन्होंने कहा कि पुलिस महेश गिरी से पूछताछ करे।‘

Loading...

Leave a Reply