केजरीवाल और कांग्रेस ने EVM की गड़बड़ी के बाद EC से बैलेट वोटिंग की मांग की

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में EVM की खराबी सामने आने के बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने अपने अपने प्रतिनिधियों के साथ चुनाव आयोग से मुलाकात की है। केजरीवाल ने दिल्ली में एमसीडी चुनाव बैलेट पेपर से करवाने की मांग की। जबकि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा मुझे EVM पर भरोसा नहीं है इसलिए वोटिंग में बैलेट का इस्तेमाल होना चाहिए।

चुनाव आयोग के सामने अपनी मांग रखते हुए कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा मुझे शुरु से ही EVM पर भरोसा नहीं है। जब सारे विश्व में चुनाव बैलेट पेपर से हो रहे हैं हमें क्या ऐतराज होना चाहिए। EVM की चिप विदेशों से मंगाई जाती है। जिस पर भरोसा नहीं किया जा सकता। अगला चुनाव जहां भी हो बैलेट पेपर से ही हो। भले ही चुनाव में कुछ देरी हो जाए।

ये भी पढें :

– बीजेपी के लिए बीफ यूपी में ममी और नॉर्थ ईस्ट में यमी- ओवैसी
– Video में देखें मध्य प्रदेश के भींड में कैसे सामने आई EVM की गड़बड़ी

केजरीवाल ने भी चुनाव आयोग के सामने अपनी आपत्ति रखी। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा हम बार बार कह रहे हैं कि EVM मशीनों से छेड़छाड़ की जा रही है। मध्य प्रदेश में जो हुआ वो रोंगटे खड़े करने वाली बात है। सवाल उठता है कि क्या देश में चुनाव निष्पक्षता से हो रहे हैं। अब लोग वोट डाल रहे हैं की मशीनें।

केजरीवाल ने आगे कहा अगर हम कहते हैं कि मशीन खराब हो सकती है तो कभी-कभी कांग्रेस या समाजवादी पार्टी को भी जाए। ऐसा कैसे हो सकता है कि मशीन खराब होगी तो बीजेपी को ही वोट जाएगा। मैं भी टेक्नॉलजी को जानता हूं। आईआईटी से पढ़ा हुआ हूं। मशीनों का सॉफ्टवेयर बदला गया है। चुनाव आयोग जो कह रहा है EVM से छेड़छाड़ नहीं हो सकती वो गलत है। मशीनें टेंपर हो सकती हैं और हो रही हैं।

ये भी पढें :

– कालेधन वालों पर पीएम मोदी का बहुत बड़ा हमला, इन कंपनियों की उड़ गई नींद

केजरीवाल ने कहा किसी भी चुनाव से पहले राजनीतिक दलों को 20-25 मशीनों को चेक करके दिखा देते हैं। एक मशीन गड़बड़ निकली तो बस उसे बदल देते हैं। मैंने कहा कि आपने असम में चेक किया कि इसका सॉफ्टवेयर तो नहीं बदला गया है, मध्य प्रदेश में चेक नहीं किया। जनतंत्र पर प्रश्नचिन्ह लग रहा है।

Loading...