ट्वीटर पर आरोप लगाकर खुद अवैध निर्माण में फंस गए कपिल शर्मा ?

मुंबई: कॉमेडी के कलाकार कपिल शर्मा ने 8 सितंबर को शाम के वक्त एक के बाद एक लगातार दो ट्वीट किये। जिसमें उन्होंने मुंबई में अपने दफ्तर बनवाने के लिए बीएमसी पर 5 लाख रुपये रिश्वत मांगने के आरोप लगाए। बात यहां तक होती तो शायद हंगामा कम हुआ होता। इसके बाद एक और ट्वीट किया कपिल ने जिसमें उन्होंने पीएम मोदी को टैग किया और पूछा कि क्या यही हैं अच्छे दिन?

फिर क्या था। इसके बाद हर तरफ हंगामा मच गया। महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडनवीस ने ट्वीट कर कपिल से पूरे मामले की जानकारी मांगी। साथ ही कहा कि दोषियों पर कड़ी कार्रवाई होगी। बीएमसी वाले कपिल को ढूंढते हुए उनके घर और दफ्तर तक पहुंच गए। लेकिन कपिल का कहीं पता नहीं चला। जब मामला आगे बढ़ा तो कपिल पर दांव उलटा पड़ता नजर आने लगा।

दरअसल मुंबई में अंधेरी के अपने जिस दफ्तर के बारे में कपिल ने रिश्वत की बात कही थी वो गैरकानूनी है। जिस जगह कपिल दफ्तर बनावा रहे हैं वो रिहाइशी इलाका है। लेकिन कपिल पर वहां व्यावसायिक गतिविधि करने का आरोप है। बीएमसी की तरफ से कपिल को इसी साल जुलाई के महीने में नोटिस जारी किया गया था। जिसके बाद अगस्त में उनके अवैध निर्माण तोड़ा भी गया था।

म्हाडा के नियम के मुताबिक अंधेरी के उस इलाके में ग्राउंड के साथ साथ फर्स्ट प्लोर के निर्माण की इजाजत है। लेकिन कपिल वहां दूसरी मंजिल बनवाना चाह रहे हैं। जो म्हाडा की नजरों में गैरकानूनी है। और उसी को लेकर कपिल ने बीएमसी पर पांच लाख की रिश्वत मांगने का आरोप भी लगाया था।

शुक्रवार को सुबह से लेकर शाम तक सीएम से लेकर बीएमसी के अधिकारी तक ये पूछते रहे कि कपिल उस अधिकारी का नाम बताएं जिन्होंने उनसे रिश्वत मांगी है। बीएमसी वाले उन्हें ढूंढने उनके घर तक गए लेकिन कपिल नहीं मिले। साक्षात को छोड़िये ट्वीटर पर भी कपिल की तरफ से कोई जवाब नहीं आया। इसके बाद सवाल उठ रहे हैं कि क्या कपिल ने सोशल मीडिया के मंच से मजाक में एक शिकायत कर दी। अगर ऐसा है तो इसे किसी भी सूरत में सही नहीं ठहराया जा सकता।

-Kapil Sharma, Narendra Modi, Devendra Fadnavis

Loading...

Leave a Reply