कल्पेश याग्निक ने की थी खुदकुशी, पुलिस को मिले सबूत

इंदौर/मध्य प्रदेश:  दैनिक भास्कर के ग्रूप एडिटर कल्पेश याग्निक का गुरुवार को निधन हो गया। शुरुआत में ये बात कही गई कि दफ्तर में रात के वक्त उन्हें दिल का दौरा पड़ा। जिसके वाद वो गिर पड़े। उनके सहयोगियों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया। लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। कुछ घंटों के इलाज के बाद रात के तकरीबन दो बजे डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

लेकिन अब इस मामले में नया खुलासा हुआ है। पुलिस के मुताबिक कल्पेश याग्निक की मौत दिल का दौरा पड़ने से नहीं हुई। पुलिस इस बात के सबूत मिले हैं कि दैनिक भास्कर की छत से कूदकर उन्होंने आत्महत्या की थी।

इंदौर के दफ्तर के परिसर में कल्पेश याग्निग को गार्ड ने गिरा हुई देखा। जिसके बाद इसकी जानकारी दी गई। जिसके बाद उन्हें बॉम्बे हॉस्पिटल ले जाया गया। लेकिन उनकी मौत हो गई।

दरअसल पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के आने के बाद पुलिस ये दावा कर रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में कल्पेश के शरीर में मल्टिपल फ्रैक्चर की बात सामने आई है। पुलिस ने बताया कि कल्पेश ने कार्यालय के तीसरी मंजिल से कूदककर आत्महत्या की है। इसके सबूत भी हैं। तीसरी मंजिल के पैराफीट वॉल पर लगे एसी के कंप्रेशर पर कल्पेश के जूतों के निशान हैं।

पुलिस ने कल्पेश का जूता और एसी कंप्रेशर पर लगी मिट्टी जब्त कर ली है। फोरेंसिक लैब में इसकी जांच करवाई जाएगी। हलांकि अभी ये साफ नहीं हो पाया है कि कल्पेश ने खुदकुशी क्यों की। इस मामले में उनके परिवार वालों से भी पूछताछ की जाएगी।

Loading...