JNU में 75 फीसदी अटेंडेंस जरुरी करने पर छात्रों ने वीसी को बनाया बंधक

नई दिल्ली:  JNU एक बार फिर से जंग का मैदान बन गया है। इसबार क्लास में 75 फीसदी अटेंडेंस अनिवार्य किये जाने के विरोध में छात्र हंगामा करने उतरे हैं। छात्रों गुरुवार को सुबह 10 बजे से हंगामा शुरु किया जो देर रात 1.30 बजे तक चलता रहा। रात के डेढ़ बजे JNU में हंगामा करने वाले छात्रों ने इस धमकी के साथ प्रदर्शन खत्म किया कि अगर इस फैसले को वापस नहीं लिया गया तो उनका अगला प्रदर्शन और भी धारदार होगा।

JNU के हंगामा करनेवाले छात्रों ने वीसी को एडमिन डिपार्टमेंट में बंधक बना लिया। जिस तरह से ये छात्र प्रदर्शन कर रहे थे उसमें एक छात्र के लक्षण कम और गुंडागर्दी ज्यादा दिखाई दे रही थी। इससे पहले इसी जेएनयू में आजादी की मांग की गई थी। इसी जेएनयू में अफजल गुरु को शहीद का दर्जा दिया गया था और जिस दिन अफजल गुरु नाम के आतंकी को मारा गया था उसे दिन को शहादत दिवस मनाने की पहल की थी।

अब एकबार फिर से उसी JNU के छात्र इसलिए हंगमा कर रहे हैं क्योंकि यूनिवर्सिटी प्रशासन ने क्लास में उनकी उपस्थिति को 75 फीसदी होना जरुरी कर दिया। JNU स्टूडेंट यूनियन की प्रेसिडेंट गीता ने बताया कि यूनिवर्सिटी ने 75 फीसदी अटेंडेंस सहित कई नियमों के सर्कुलर जारी किये हैं। जो स्टूडेंट हित में नहीं हैं। इन्हीं सर्कुलर को वापस लेने की मांग को लेकर पिछले काफी वक्त से छात्र और छात्र संगठन हड़ताल कर रहे थे।

गीता के मुताबिक गुरुवार को उन्होंने वीसी से मुलाकात करने के लिए एडमिन विभाग को तीन बार चिट्ठी लिखी। हर बार उन्हें कहा गया कि वीसी उनसे मिलेंगे लेकिन वीसी नहीं मिले। छात्रों का कहना है कि वो वीसी से मिलकर अपनी समस्या उनके सामने रखना चाहते थे साथ ही यह मांग करना चाहते थे कि सर्कुलर को स्टूडेंट के हित में वापस लिया जाए।

Loading...