jnu

देशभक्ती के लिए JNU में सेना के टैंक की तैनाती होगी

देशभक्ती के लिए JNU में सेना के टैंक की तैनाती होगी

नई दिल्ली: जेएनयू में पहली बार करगिल विजय दिवस मनाया गया। रविवार को 18वें करगिल विजय दिवस के मौके पर आयोजित कार्यक्रम में जेएनयू के कुलपति एम. जगदीश कुमार ने केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र कुमार और विदेश राज्य मंत्री जनरल वीके सिंह से अपील की कि वो सेना का एक टैंक दिलवाने में विश्वविद्यालय की मदद करें। कुलपति ने कहा टैंक को विश्वविद्यालय में एक खास जगह पर लगाया जाएगा ताकि छात्रों को सेना के बलिदान की याद दिलाई जा सके।

जेएनयू में राष्ट्रवाद पैदा करने के लिए जेएनयू परिसर में सेना के टैंक को रखने का विचार 9 फरवरी 2016 को आयोजित उस कार्यक्रम के बाद आया है जिसमें देश विरोध नारे लगाए गए थे। इस आरोप में छात्रों को गिरफ्तार भी किया गया था।

करगिल दिवस पर रविवार को तिरंगा मार्च निकाला गया और करगिल युद्ध में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजली दी गई। मार्च का आयोजन जेएनयू प्रशासन और वेट्रंस इंडिया की तरफ से किया गया था। इसमें दो केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और जनरल वीके सिंह वेट्रंस इंडिया के मेंटर मेजर जनरल जीडी बख्शी और क्रिकेटर गौतम गंभीर शामिल हुए। इस मौके पर 2200 फीट लंबे तिरंगा को जेएनयू मेन गेट से कन्वेंसन सेंटर तक तकरीबन दो किलोमटर तक लेकर चला गया। इस मार्च 23 शहीदों के परिजन भी शामिल हुए।

Loading...

Leave a Reply