झारखंड में चुंबन प्रतियोगिता कराने पर साइमन मरांडी को कारण बताओ नोटिस, Video

झारखंड में चुंबन प्रतियोगिता कराने पर साइमन मरांडी को कारण बताओ नोटिस, Video

रांची/झारखंड:  झारखंड में पाकुड़ के लिट्टीपाड़ा से विधायक साइमन मरांडी ने अपने पैत्रिक गांव ताल पहाड़ी में एक चुंबन प्रतियोगिता का आयोजन किया था। जिसमें पति-पत्नी एक दूसरे का सार्वजनिक तौर पर सैकड़ों लोगों की मौजूदगी में चुंबन ले रहे थे। इसमें सबसे ज्यादा देर तक चुंबने वाले पति-पत्नी को विजेता घोषित किया गया। लेकिन इस तरह के प्रतियोगिता का आयोजन करने के बाद झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक साइमन मरांडी की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

अब पार्टी ने भी साइमन मरांडी को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया है। इसमें उनसे पूछा गया है कि 10 दिसंबर को लिट्टीपाडा प्रखंड के डुमरिया मैदान में आयोजित मेले में आपकी उपस्थिति में चुंबन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। आगामी सात दिनों के अंदर मैं आपसे प्रकाशित उक्त समाचार के विषय में उसके तथ्य सहित विस्तृत जानकारी लिखित तौर पर समर्पित करने का निर्देश देता हूं।

पार्टी की तरफ से 12 दिसंबर को साइमन मरांडी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जिसका जावाब उन्हें सात दिनों में देना है। दूसरी तरफ पाकुड़ के उपायुक्त के पास भी इस मामले की शिकायत की गई है। जिसके बाद उनके स्तर से भी इस पूरे मामले की जांच की जा रही है। बीजेपी इस मामले में हमलावर है। पार्टी ने इस तरह के आयोजन को सभ्यता के खिलाफ बताया है।

इस तरह के आयोजन पर साइमन मरांडी का कहना था कि आदिवासी प्यार का इजहार करने में संकोची होते हैं। इसलिए प्रेम और आधुनिकता को बढ़ावा देने के लिए इस तरह की प्रतियोगिता करवाई गई है। अपने दिल की बात ना बता पाने के कारण आदिवासियों में पिछले कुछ वर्षों में पति-पत्नी के बीच झगड़े और तलाक के मामले बढ़े हैं। पढ़े लिखे ना होने की वजह से आदिवासी अपने आप को सामाजिक ढांचे में ढाल नहीं पाते हैं। इससे उनके व्यवहार और पारिवारिक रिश्ते कमजोर हो जाते हैं। इससे उनके मन का संकोच दूर होगा।

Loading...