हज़ारीबाग़:बुराड़ी कांड जैसे ही पूरे परिवार की मौत,फॉर्मूले में लिखा सुसाइड नोट बरामद

झारखंड:दिल्ली में बुराड़ी कांड की गुत्थी सुलझ भी नही पायी थी कि अचानक वैसी ही घटना झारखण्ड के हज़ारीबाग़ से सामने आ गयी। शनिवार की देर रात कर्ज में डूबे एक ही परिवार के छह सदस्यों की मौत हो गयी ।जिसके साथ एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ लेकिन सुसाइड नोट एक पहेली के तरह उलझी है।

बताया जा रहा है कि हजारीबाग के खजांची तालाबा के नजदीक सीडीएम अपार्टमेंट के एक फ्लैट में परिवार रहता था।जिनकी मौत हो गयी।उनमे से तीन सदस्य की हत्या की गयी है तो वही तीन ने ख़ुदकुशी कर ली है

पुलिस द्वारा मृतकों की पहचान नरेश अग्रवाल, महावीर माहेश्वरी, किरण अग्रवाल, प्रीति अग्रवाल, अन्वी अग्रवाल और अमन अग्रवाल के रूप में की गयी है।

बताया जा रहा है कि परिवार के छह लोगों में दो लोगों ने फांसी लगाकर जान दी।एक बच्चे की धारदार हथियार से हत्या की गई है, जबकि एक बच्ची को जहर देकर मारा गया।और एक महिला की गला दबाकर हत्या की गई है।और एक ने छत से कूद कर जान दे दी।

कमरे में बरामद सुसाइड नोट के अनुसार मौत की शुरुआती वजह ‘कर्ज’ और आखिरी वजह कर्ज न चुका पाने की वजह से उपजे ‘तनाव’ को बताया है।सुसाइड नोट पर लाल पेन से लिखा हुआ है कि अमन को लटका नही सकते थे इसीलिए उसकी हत्या की गयी।और उसके नीचे नीले पेन से गणित के फार्मूला के तरह लिखा है ‘बीमारी + दुकान बंद + दुकानदारों का बकाया न देना + बदनामी + कर्ज = तनाव (Tension) = मौत’

(Visited 25 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *