गोड्डा:DRDA स्थित सभागार में तनावमुक्त रहने का दिया गया टिप्स

गोड्डा/झारखंड;स्थानीय DRDA स्थित सभागार में उपविकास आयुक्त सुनील कुमार के अध्यक्षता में स्ट्रेस मैनेजमेंट कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में आए चिकित्सक निलेश चरेप ने स्ट्रेस मैनेजमेंट से जुड़े हुए गतिविधियों पर विस्तृत जानकारी दिया।

उन्होंने कहा कि हर आदमी के जीवन में तनाव एक बड़ी समस्या बनकर उभर रही है। तनाव तब उत्पन्न होता है जब कोई कार्य इच्छा के विरुध हो या कार्य के लिए सही समय पूर्ण रूप से तैयार नहीं हो पाते हो। लेकिन इससे समस्या दूर नहीं हो सकती। अपने जीवन जीने के लिए प्रत्येक आदमी को कुछ न कुछ कार्य करना पड़ता है। यह जरूरी नहीं कि सब को इच्छा अनुसार अनुसार कार्य प्राप्ति हो।चाहे सरकारी सेवा हो या निजी सेवा लोगों को कार्य के लिए हमेशा तत्पर रहना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि तनाव को दूर नहीं किया जा सकता लेकिन इसे कम जरुर किया जा सकता है। कार्यशाला में चिकित्सक द्वारा तनाव दूर करने के टिप्स दिए गए। उन्होंने कहा कि टिप्स को अपना कर लोग तनावमुक्त,दवामुक्त रह सकते। लोग स्वास्थ्य और तनाव मुक्त जिंदगी जीने के लिए अपनी आदतों में बदलाव लाये और खान-पीन का ध्यान रखें।

उन्होंने प्राकृतिक चिकित्सा पर प्रकाश डालते हुए कहा कि तनाव के कारण से इंसान को कई बीमारियां हो सकती है इसके लिए प्रतिदिन सुबह 30 मिनट टहला जरुरी है। समय के साथ लोगों को हृदय रोग,डायबिटीस, ब्लड प्रेसर जैसी बीमारियां हो रही है। सावधानी रखने से ऐसी बीमारियां दूर जा सकती है।

हृदय रोग से बचने के लिए 25 उम्र के लोग साल में एक बार लिपिड प्रोफाइल टेस्ट और 30 उम्र के लोग साल में दो बार लिपिड प्रोफाइल टेस्ट अवश्य करा लेना चाहिए।अंत में कार्यशाला में मौजूद सभी लोगों को उपायुक्त महोदय ने संबोधित किया।एवं कार्यशाला माध्यम से से लोगों को स्वच्छ जीवन जीने के लिए प्रेरित किया। मोके पर DSO विवेक सुमंन ,पेयजल स्वच्छता कार्यपालक अभियंता अरुण कुमार सिंह, सिविल सर्जन वनदेवी झा,समाज कल्याण पदाधिकारी रेखा कुमारी व अन्य पदाधिकारी मौजूद थे।

(Visited 46 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *