गोड्डा: होली को लेकर डीसी ने की शांति समिति की बैठक, हुड़दंगियों पर होगी कड़ी कार्रवाई, Video

गोड्डा:  होली का त्यौहार करीब है। इसे लेकर प्रशासन की तरफ से भी जरुरी उपाय किये जा रहे हैं। इस संबंध में डीसी किरण कुमारी पासी ने शांति समिति के सदस्यों के साथ बैठक की। जिसमें साफतौर पर ताकीद की गई कि किसी भी तरह का हुड़दंग करनेवालों के साथ प्रशासन सख्त से पेश आएगा। होली के दौरान अवैध तरीके से शराब बेचनेवालों पर भी कार्रवाई की जाएगी।

अवैध नशा कारोबारियों पर रहेगी नजर

डीसी किरण कुमारी पासी ने जिले के सभी थाना प्रभारियों को भी निर्देश दिये कि अपने अपने इलाके में शांति भंग करनेवाले लोगों को चिन्हित करें और जो अवैध तरीके से किसी भी तरह के नशा का कारोबार करते हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।

डीजे पर लगेगी रोक

इस दौरान शांति समिती की तरफ से कई सुझाव भी दिये गए। जिसमें कहा गया कि होली के मौके पर डीजे की इस्तेमाल पर रोक लगाई जाए। क्योंकि डीजे की तेज आवाज पर हुड़दंगियों को अत्पात करने का एक बहाना मिल जाता है। जिसपर डीसी किरण कुमारी पासी की तरफ से कहा गया कि डीजे बजाने पर रोक लगाई जाएगी।

अभिभावक भी अपने बच्चों को समझाएं

शांति समिति की तरफ से सुझाव दिया गया कि 19 मार्च को (धुरखेल) वाले दिन शहर में खासतौर से गश्ती की जाए। क्योंकि पूर्व में इस कई जगहों पर बसों या वाहनों पर पत्थरबाजी की घटना हो चुकी है। डीसी की तरफ से इसपर सख्त ताकीद की गई कि मां-पिता अपने बच्चों को भी समझाएं और अगर कोई भी इस तरह का काम करता है जिससे दूसरे को परेशानी होती है तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। अगर हुड़दंग करनेवाला नाबालिग हुआ तो उसपर जुवेनाइल एक्ट के तहत कार्रवाई होगी।

राजनीतिक दल होली मिलन से पहले लेंगे इजाजत

सियासी पार्टियों को भी हिदायत दी गई कि होली के मौके पर किसी भी तरह से होली मिलन के नाम पर पार्टी का प्रचार-प्रसार का काम ना करें। क्योंकि लोकसभा को लेकर आचार संहिता लगू हो चुका है। ये भी कहा गया कि अगर कोई राजनीतिक दल होली मिलन समारोह का आयोजन करते हैं तो पहले वो प्रशासन से इसकी इजाजत ले लें। अगर होली मिलन समारोह के दौरान चुनाव का प्रचार प्रसार होता है तो उसके खर्च की जानकारी देनी होगी। उस खर्च को उम्मीदवार के खाते में जोड़ा जाएगा।

रैश ड्राइविंग पर होगी कार्रवाई

बैठक में जिले में रैश ड्राइविंग का मुद्दा भी उठा। अकसर ये देखा जाता है कि मोटरसाइकिल चालक तेज रफ्तार में बाइक चलाते हैं। जिसकी वजह से कई बार दुर्घटना भी होती है। इस तरह की ड्राइविंग की वजह से कई बार दूसरा वाहन चला रहे लोगों को भी खतरा होता है। इसपर प्रशासन की तरफ से सघन वाहन चेकिंग अभियान चलाया जाएगा। जिसमें गाड़ी के कागजात, ड्राइविंग लाइसेंस, हेलमेट इत्यादि की जांच की जाएगी।

(Visited 48 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *