गोड्डा: अशोक स्तंभ पर एक साथ दो कार्यक्रम, सवर्ण आंदोलन का रास्ता बंद! Video

गोड्डा/झारखंड:  रविवार को SC/ST एक्ट में केंद्र सरकार के संशोधन के खिलाफ अशोक स्तंभ पर सवर्ण समाज की तरफ से एक दिन का धरना दिया जाना तय था। कार्यक्रम के संयोजक बच्चू झा के मुताबिक इसके लिए प्रशासन की इजाजत भी ली जा चुकी थी। लेकिन उनके सामने नगर परिषद का मंच सज गया जिसमें सांसद निशिकांत दूबे को शामिल होना था और सवर्ण समाज के आंदोलन का रास्ता बंद हो गया।

सवर्ण समाज की तरफ से आरोप ये लगाए जा रहे हैं कि जिस तरह से एक ही दिन और एक ही समय पर दूसरा कार्यक्रम किया गया उससे ये भी लग रहा है कि इसके पीछे हमारी आवाज को कमजोर करने की कोशिश है। लोग अनशन स्थल तक नहीं पहुंच सकें इसी वजह से ये सबकुछ किया गया।

हलांकि जब इस मामले पर नगर परिषद अध्यक्ष से बात की गई तो उनका कहना था कि उन्हें इस बारे में जानकारी ही नहीं थी कि उनके कार्यक्रम स्थल के पीछे एससी/एसटी एक्ट के विरोध में कोई धरना दिया जा रहा है। उन्होंने आगे कहा हो सकता है एसडीओ साहब को इस बारे में ध्यान नहीं रहा होगा। गुड्डू मंडल का कहना था कि हमारा कार्यक्रम केवल दो घंटे का है उसके बाद हम उन्हें रास्ता दे देंगे।

एससी-एसटी एक्ट पर बोलते हुए सुरजीत झा ने कहा कि वो केंद्र सरकार को केवल इतना ही कहना चाहते हैं कि अध्यदेश के जरिये सुप्रीम कोर्ट के जिस फैसले को सरकार ने पलटा है सदन में उसे लाने से पहले एक बार अपने इस फैसले पर पुनर्विचार कर लें। सुरजीत झा ने कहा कि उनका ये आंदोलन चरणबद्ध तरीके से आगे बढ़ेगा। और आज तो केवल शुरुआत है।

सेवानिवृत्त शिक्षक माधव चंद्र चौधरी ने भी इस एससी-एसटी एक्ट में केंद्र सरकार के अध्यादेश पर विरोध प्रगट किया। साथ ही उन्होंने कार्यक्रम स्थल पर सवर्ण समाज के अनशन स्थल तक आने का रास्ता रोके जाने पर भी नाराजगी जाहिर की।

Loading...

Leave a Reply