‘झारखंड बचाओ देश बचाओ’ नारे के साथ महागामा से दुमका तक होगी पदयात्रा

गोड्डा/झारखंड:  ‘झारखंड बचाओ देश बचाओ’ के संकल्प के साथ महागामा से दुमका तक पदयात्रा आरंभ की जाएगी। इसकी जानकारी झारखंड जनतांत्रिक महासभा की तरफ से दी गई। ये पदयात्रा 1 दिसंबर को महागामा से आरंभ होगी और 9 दिसंबर को दुमका पहुंचेगी। इस पदयात्रा के जरिये महासभा अपनी पांच मांगों पर सरकार को घेरेगी।

झारखंड जनतांत्रिक महासभा के बीरेंद्र कुमार ने बताया कि मौजूदा झारखंड और केंद्र की बीजेपी सरकार की जनविरोधी नीतियों का विरोध करना इस पैदम मार्च का मकसद है। ये पदयात्रा महागामा, गोड्डा, मघुपुर होते हुए दुमका पहुंचेगी। पदयात्रा देशभर में हो रहे मॉब लिंचिंग के खिलाफ, झारखंड राज्य को सूखा ग्रस्त घोषित करवाने के लिए, झारखंड में एसटी, एससी, ईबीसी, ओबीसी का आरक्षण 50 फीसदी से बढ़ाकर 73 फीसदी करवाने के लिए तथा झारखंड में कार्यरत सभी अनुबंधकर्मी को सरकारीकरण करवाने के लिए किया जा रहा है।

महासभा की तरफ से आरोप लगाया गया कि केंद्र में मोदी सरकार के आने के बाद से देशभर में लगातार आदिवासी, दलित, पिछड़े, अल्पसंख्यकों और महिलाओं के ऊपर हमले बढ़े हैं। महासभा ने आरोप लगाया कि झारखंड में भी ऐसे ही हालात हैं। महासभा के बीरेंद्र ने आरोप लगाया कि गौमांस और गौरक्षा के नाम पर मुसलमानों, आदिवासियों, दलितों को मॉब लिंचिंग कर बर्बर तरीके से मारा जा रहा है।

उन्होंने बीजेपी-आरएसएस पर धर्म के नाम पर समाज को बांटने का भी आरोप लगाया। झारखंड सरकार पर हमला करते हुए उन्होंने बताया कि जब से रघुवर सरकार सत्ता में आई है तब से जनता के संवैधानिक अधिकारों को छीना जा रहा है। इन्हीं सब मुद्दों को लेकर ये पदयात्रा की जा रही है।

पदयात्रा के कार्यक्रम

1 दिसंबर- महागामा से शुरु होकर पथरगामा, गोड्डा

2 दिसंबर – पोड़ैयाहाट

3 दिसंबर – हंसडीहा, सरैयाहाट

4 दिसंबर- मोहनपुर, देवघर

5 दिसंबर- देवीपुर

6 दिसंबर – मधुपुर, सारठ

7 दिसंबर – सोनराय ठाड़ी

8 दिसंबर- जरमुंडी, जामा

9 दिसंबर – दुमका में पदयात्रा का समापन

(Visited 46 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *