गोड्डा: ठनका गिरने से एक की मौत, तीन घायल

गोड्डा/झारखंड:  रविवार की शाम आसमानी आफत ने लोगों की नींद उड़ा दी। आसमान पर बादल का पहरा तो सुबह से ही था। लेकिन शाम होने का बाद बादल और घना हो गया और बारिश की बूंदें आसमान से धरती की तरफ रवाना हुई। यहां तक तो किसी को कोई परेशानी नहीं थी। लेकिन आसमानी मुसीबत ने तब दस्तक दे दी जब वज्रपात की शुरुआत हुई।

जिले के अलग अलग जगहों पर हुए वज्रपात की घटना में एक युवक की मौत हो गई और तीन घायल हो गए। वज्रपात की ये घटना ललमटिया के बाबूपुर, दूसरी घटना बोआरीजोर के होसेल टोला जबकि तीसरी घटना पोड़ैयाहाट में हुई। जहां के जगन्नाथपुर गांव में वज्रपात से एक बच्ची घायल हो गई। वज्रपात की घटना की जानकारी बसंतराय से भी है और वहां भी एक लड़की बेहोश हो गई।

वज्रपात की सबसे दुखद घटना ललमटिया थाना के बाबूपुर गांव में हुई। जहां शाम के वक्त आसमानी बिजली पेड़ पर गिरी और जितेंद्र कुमार की जिंदगी से सांसों की डोर छिन गई। जिस वक्त ठनका गिरा तब जितेंद्र कुमार पंडित जिसकी उम्र 15 साल थी अपने घर के बाहर बैठा था। तभी पेड़ पर बिजली गिरी लेकिन इसका असर आसपास भी हुआ। जिसमें जितेंद्र कुमार की मौत हो गई।

बाबूपुर के होसेल टोला में वज्रपात से एक बच्ची झुलस गई। जिसे पहले बोआरीजोर अस्पताल पहुंचाया गया लेकिन बाद में प्राथमिक उपचार के बाद उसे सदर अस्पताल भेज दिया गया। पोड़ैयाहाट में भी बिजली गिरने से एक बच्ची घायल हो गई। कुल मिलाकर रविवार की शाम गोड्डा वासियों के लिए आसमानी आफत की शाम रही।

Loading...