गोड्डा: खदेड़े जाएंगे नक्सली, सीमावर्ती राज्यों से तालमेल जरुरी- IG

गोड्डा/झारखंड: संथाल परगना की आईजी सुमन गुप्ता मंगलवार को गोड्डा के दौरे पर थीं। अपने इस अहम दौरे पर आईजी सुमन गुप्ता ने गोड्डा के एसपी राजीव रंजन सिंह समेत जिला के अन्य पुलिस अधिकारियों के साथ नक्सली और आपराधिक गतिविधियों पर चर्चा की। इस दौरान प्रेस कांफ्रेंस कर उन्होंने कहा कि नक्सलियों के पैर उखड़ रहे हैं और आनेवाले दिनों में उन्हें पूरे इलाके से खदेड़ा जाएगा। इसके लिए पड़ोसी राज्यों और अलग अलग जिलों की पुलिस बीच तालमेल बढ़ाई जाएगी। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि नक्सलियों को पूरे क्षेत्र से खदेड़ना उनकी प्राथमिकता है।

उन्होंने कहा कि गोड्डा, दुमका और पाकुड़ की सीमाएं एक दूसरे से लगी हैं। इसलिए नक्सली इस इलाके में अपनी मौजूदगी दर्ज करने की कोशिश में हैं। पिछले दिनों दुमका के गोपीकांदर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ भी हुई थी। जिसमें दो नक्सलियों को मारा गया था। लेकिन उनकी शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है। उन्होंने कहा मारे गए दोनों नक्सलियों में से एक नक्सली सुंदरपहाड़ी का बताया जा रहा है। लेकिन इसकी पुष्टि नहीं पाई है।

गोड्डा को नक्सलियों के द्वारा पाथवे के तौर पर इस्तेमाल करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि सबसे बड़ा मकसद नक्सलियों को खदेड़ना है। उन्होंने कहा कि ये इलाका तीन राज्यों (बंगाल, बिहार, झारखंड) का सीमावर्ती इलाका, इसलिए नक्सलियों के सफाए के लिए तीनों राज्यों की पुलिस के बीच तालमेल भी बढ़ाने की जरूरत है।

पिछले दिनों दुमका के गोपीकांदर में नक्सलियों के साथ हुई मुठभेड़ के बाद ये खबर आई थी कि नक्सली सुंदरपहाड़ी से लगे गांव में आकर छिप गए है। जिसके बाद गोड्डा के एसपी राजीव रंजन सिंह की अगुवाई में पुलिस ने पूरे इलाके में सघन छापेमारी अभियान चलाया था। 

Loading...