गोड्डा: मस्ती की पाठशाला में बच्चों के रंग महोत्सव से रंगीन हुआ माहौल

गोड्डा/झारखंड:  गोड्डा के बाबू पाड़ा स्थित प्ले स्कूल ‘मस्ती की पाठशाला’ में शनिवार को रंग महोत्सव मनाया गया। रंग महोत्सव में बच्चों ने भक्त प्रह्लाद की झांकी प्रस्तुत करके लोगों का मन मोह लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे नगर परिषद अध्यक्ष अजित सिंह ने बच्चों के साथ साथ स्कूल प्रबंधन की जमकर तारीफ की और कहा कि बड़े शहरों की तरह गोड्डा में भी ‘मस्ती की पाठशाला’ के रूप में एक बढ़िया प्रयास किया गया है। यहां बच्चे मनोरंजन के साथ साथ शिक्षा व संस्कार ग्रहण करते हैं।

मुख्य अतिथि डीईओ सचिदानंद तिग्गा ने कहा कि जिस तरह से इस स्कूल ने बच्चों की पढ़ाई में तकनीक का इस्तेमाल किया है वो तारीफ के काबिल है। उन्होंने स्कूल प्रबंधक आमोद सिंह की तारीफ की और कहा कि सरकारी विद्यालयों में भी शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए लोग सामने आएं। उन्होंने पूर्व शिक्षकों से भी शिक्षादान करने की अपील की।

इस कार्यक्रम में मस्ती की पाठशाला की तरफ से उन बच्चों के लिए एक नई शुरुआत की जानकारी दी गई जो बच्चे आर्थिक तंगी की वजह से इस तरह के संस्थान में प्रवेश नहीं पा सकते हैं। पाठशाला की तरफ से कहा गया कि जो बच्चे आर्थिक तौर पर कमजोर परिवार से हैं अगर उनके अभिभावक भी इस संस्थान में अपने बच्चों को भेजकर चरित्र निर्माण करना चाहते हैं तो उनका भी स्वागत है। वैसे बच्चों के लिए संस्थान अलग से समय की व्यवस्था करेगा।

राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त शिक्षाविद प्राणधन चौधरी ने कहा कि शिक्षा के साथ संस्कार भी जरूरी है और वो इस स्कूल में दिख भी रहा है। कार्यक्रम को राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित पूर्व शिक्षक माधव चौधरी, झारखंड शिक्षा परिषद से जुड़े हुए चक्रधर यादव, ग्रामीण संघर्ष मोर्चा के सचिव व पूर्व शिक्षक तेज नारायण साह, कलाप्रेमी सुरजीत झा, मनीष कुमार, यूनिसेफ के कॉर्डिनेटर धनंजय त्रिवेदी, कांग्रेस नेता चंद्रशेखर पाठक, नारायण मंडल, प्राथमिक शिक्षक संघ से जुड़े जयकांत सिंह, वार्ड पार्षद कंचन सहाय, पूर्व डिप्टी कलेक्टर बीएन सहाय, बीजेपी नेता अरुण साह आदि ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। छोटे छोटे बच्चों ने गुलाल लगाकर सभी अतिथियों का स्वागत किया।

Loading...