गोड्डा: रिहा हुए नगर अध्यक्ष गुड्डू मंडल, समर्थकों ने बांटी मिठाई, Video

गोड्डा/झारखंड:  28 दिनों तक न्यायिक हिरासत में रहने के बाद नगर अध्यक्ष गुड्डू मंडल आज रिहा हुए। गुड्डू मंडल बीजेपी कार्यकर्ता से मारपीट के आरोप में पिछले 8 जुलाई से न्यायिक हिरासत में थे। उनकी रिहाई के बाद उनके समर्थकों में खुशी का माहौल है। अपनी रिहाई के बाद गुड्डू मंडल शहीद स्तंभ पर जाकर तीन दिनों से अनशन पर बैठे शुभम भगत को जूस पिलाकर उनका अनशन खत्म करवाया।

अपनी रिहाई के बाद गुड्डू मंडल ने कहा कि उन्हें राजनीतिक साजिश के तहत फंसाया गया। जिस जमीन पर विवाद हुआ था उसपर किसी भी तरह के निर्माण कार्य के लिए नगर परिषद से भी इजाजत लेनी होती है। लेकिन ऐसी कोई इजाजत नहीं ली गई थी। उन्होंने कहा कि विधायक अमित मंडल और बीजेपी के कार्यकर्ता की तरफ से जमीन को जबरन हड़पने की साजिश की जा रही है।

चुकी जमीन करोड़ों की है इसलिए ये प्रतीत होता है कि इस तरह से नियम को ताक पर रखकर जमीन को हड़पने की साजिश की जा रही है। नगर अध्यक्ष ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनके खिलाफ जो एफआईआर दर्ज की गई थी उसमें साफ तौर पर ये दिखाई दे रहा है कि बीजेपी के दबाव में पुलिस काम कर रही थी।

क्या था विवाद?

दरअसल ये पूरा विवाद तब शुरु हुआ जब नगर परिषद अध्यक्ष गुड्डू मंडल के घर के करीब एक नाला का निर्माण शुरु हुआ। जिसपर गुड्डू मंडल का कहना था कि इस जमीन किसी तरह के निर्माण पर रोक लगी है। और बिना एसडीओ के आदेश के निर्माण नहीं हो सकता। गुड्डू मंडल का आरोप है कि नाला निर्माण कर जमीन का अतिक्रमण करने की योजना है। जबकि पीड़ित युवक मनीष रंजन का कहना था कि नाला का टेंडर हुआ है। जिसके बाद उसका निर्माण किया जा रहा था।

Loading...