गोड्डा: मजदूर की मौत पर मुआवजे की मांग के लिए शव के साथ किया सड़क जाम, Video

गोड्डा/झारखंड:  शहर में विद्युत विभाग और ठेकेदार की लापरवाही के कारण रविवार को पोल गाड़ रहे मजदूर को अपनी जान गवानी पड़ी। इस लापरवाही से लोग आक्रोशित नजर आ रहे हैं। और मुआवजे की मांग करते हुए मजदूर के शव के साथ सड़क जाम कर प्रदर्शन कर रहे है। जिसके बाद प्रशासन की तरफ से पीड़ित परिवार को तत्काल 10 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी गई। घटना के बाद से ही संवेदक फरार है।

हादसे की सबसे बड़ी वजह ये रही कि जिस वक्त फसिया डंगाल में पोल गाड़ने का काम किया जा रहा था उस वक्त शटडाउन नहीं लिया गया था। यानि ऊपर बिजले के तार में करंट मौत बनकर दौड़ रही थी और नीचे मजदूर काम कर रहे थे।

बता दे कि ऐसा पहली बार नही हुआ है पिछले हफ्तेभर में ही शहर के अलग अलग इलाकों में बिजली के तार टूटने की घटना हो चुकी है। जिसमें लोग बाल बाल बचे हैं।इसके लिए कई बार विभाग के लिए काम कर रहे तमाम ठेकेदारों तक को बार बार चेताया जा रहा था और इस चेतावनी को हमेशा अनदेखा किया गया।

जिसका नतीजा रविवार को शहर के फसिया डंगाल में बिजली का पोल गाड़ रहे मजदूर हेमंत रमानी चुकानी पड़ी। हेमंत रमानी केंदुआ का रहनेवाला था। इस हादसे में उसके साथ काम कर रहे दो मजदूर घायल हो गए थे।

हादसा उस वक्त हुआ जब बिजली के पोल को खड़ा किया गया और वो ऊपर से गुजर रहे 11 हजार के तार से सट गया। चश्मदीदों के मुताबिक जब पोल का संपर्क 11 हजार के तार से हुआ तो तेज चिंगारी निकली। लोग घरों से बाहर निकले तो तीन मजदूर जमीन पर पड़े थे। जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। जिनमें से एक की मौत हो चुकी थी।

Loading...